उदयपुर, जार की जिला इकाई में विगत लम्बे समय से खिंचतान चल रही है। अधिकांश सदस्यों का अध्यक्ष एवं महामंत्री की कार्यशैली को लेकर विरोध है। प्रदेश अध्यक्ष दाधीच के निर्देश पर रविवार को गुलाब बाग में सम्पन्न जार की बैठक में संगठन के चुनाव शीघ्र कराने पर विचार विमर्श किया गया।

इधर निवर्तमान प्रदेश अध्यक्ष ललित शर्मा ने जयपवुर से दूरभाष पर बताया कि ओमेन्द्र दाधीख् जयपुर इकाई के अध्यक्ष थे। जयपुर जिला इकाई को भंग करने पर अब किसी पद पर नही है लेकिन वे स्वयं को प्रदेश अध्यक्ष बताते हुए संगठन के नियमों के विरूद्घ कार्य कर रहे है जिनके विरूद्घ शीघ्र कार्रवाही की जायेंगी।

शर्मा ने बताया कि प्रदेश में जार की २५ इकाईयां है तथा १४०० सदस्य जुडे हुए है। प्रदेश कार्यकारिणी शीघ्र ही जिला इकाईयों का पुनर्गठन करेंगी। लेकिन तब तक भानावत ही उदयपुर इकाई के अध्यक्ष रहेंगे।

दूसरी ओर कथित रूप से नव मनोनीत प्रदेश अध्यक्ष ओमेन्द्र दाधीच का कहना है कि ललित शर्मा को गत दिसम्बर माह में ही सर्वसम्मति से हटाया जा चुका है। दाधीच ने दूरभाष पर बताया कि प्रदेश में संगठन की २२ इकाईयों का शीघ्र पुनर्गठन किया जाएगा। उदयपुर के लिए दिनेश गोठवाल का संयोजक मनोनीत किया गया है।

बहरहाल जार में नेतृत्व की लडाई प्रदेश से लेकर जिला इकाई तक पूर्ण उबाल पर और इससे जुडे सभी सदस्य भ्रम की स्थिति में है।

 

LEAVE A REPLY