_DSC0426उदयपुर। आदिवासियों के दिग्गज नेता डॉक्टर किरोड़ी लाल मीणा ने खुला आरोप लगाया है कि राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे ने ही फर्जी मुठभेड़ों में सोहराबुद्दीन और तुलसी प्रजापति की हत्याएं करवाई। सब कुछ क्रनम्बर वन की सहमति से हुआ है।

_DSC0412डॉ. किरोड़ी ने गुरुवार सुबह अपनी विजय संकल्प यात्रा पर रवाना होने से पहले यहा सर्किट हाउस में हुई विशेष बातचीत में यह सनसनीखेज जानकारी दी। डॉ. किरोड़ी से नम्बर वन के बारे में और खुलासा करने के लिए कहा गया तो उन्होंने कहा, नम्बर वन यानी मुख्यमंत्री। उस समय मुख्यमंत्री कौन थी- वसुंधरा राजे। सारा मामला साफ है। उन्होंने कहा कि सीबीआई को वसुंधरा से पूछताछ करनी चाहिए। सब कुछ सामने आ जाएगा। डॉ. किरोड़ी ने कहा, मैं यह मांग करता हूं कि इस मामले में तत्कालीन नम्बर वन से पूछताछ की जाए। उन्होंने कहा कि नम्बर वन की सहमति के बिना ऐसे काम नहीं हो सकते। कटारिया तो नीचे थे।

बाद डॉ. किरोड़ी, उनकी पत्नी श्रीमती गोलमा देवी और राष्ट्रीय जनता पार्टी के सुप्रीमो पीए संगमा ने बेणेश्वर धाम के लिए प्रस्थान किया, जहां से उन्हें अपनी राष्ट्रीय जनता पार्टी की विजय संकल्प यात्रा की शुरूआत की। तीनों आदिवासी नेताओं ने अपने रथ में सवार होकर दावा किया कि अगले विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी की ही सरकार बनेगी। राजपा की यह विजय संकल्प यात्रा 2 जून तक उदयपुर संभाग में रहेगी।

विजय संकल्प यात्रा का प्रस्तावित कार्यक्रम

>> 23 मई : बेणेश्वर धाम पर आम सभा

>> 24 मई : लोहागढ़ (स्वागत), धरियावद रात्रि विश्राम

>> 25 मई : पटियाला, छोटी सादड़ी, निम्बाहेड़ा में रात्रि विश्राम

>> 26 मई : बड़ीसादड़ी, भींडर, वल्लभनगर में रात्रि विश्राम

>> 27 मई : मावली, नाथद्वारा (स्वागत), खमनोर, गोगुंदा में रात्रि विश्राम

>> 28 मई : देवला, कोटड़ा, झाड़ोल में रात्रि विश्राम

>> 29 मई : फलासिया, खेरवाड़ा, केसरीयाजी (सेमारी) मेें रात्रि विश्राम

>> ३० मई : सलूंबर, डूंगरपुर, देवल (सभा), चौरासी-गैंजी घाटा में स्वागत, सीमलवाडा में रात्रि विश्राम

>> ३१ मई : चिखली-सभा, सागवाड़ा-बडग़ी में सभा, सागवाड़ा, गढ़ी-परतापुर- माहीपुल पर स्वागत, परतापुर (सांगेला) में रात्रि विश्राम

>> १ जून : तलवाड़ा, बांसवाड़ा घाटोल में रात्रि विश्राम

>> २ जून : प्रतापगढ़ (कुशालपुरा), घंटाली, दानपुर में सभा, कुशलगढ़ में रात्रि विश्राम

सज्जनगढ़, बागीदौरा, मानगढ़ धाम पर समापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here