u8aprph-12उदयपुर, । शहर के विभिन्नस्थानों से महंगी कीमत के दुपहिया वाहन चोर गिरोह का पुलिस ने पर्दाफास करते हुए गिरोह के चार बदमाशों को गिरफ्तार कर इनके कब्जे से चौबीस वाहन जब्त किये।

जिला पुलिस अधीक्षक हरिप्रसाद शर्मा के निर्देश पर शहर में बढती हुई नकबजनी एवं वाहन चोरी की वारदातों की रोकथाम के लिए चलाए जा रहे अभियान के लिए विभिन्न टीमे गठित कर कार्यवाही की गई। इस दौरान पुलिस उप अधीक्षक पश्चिम दयानन्द सारण के नेतृत्व में सुखैर थानाधिकारी रामसुमैर, ए एस आई भैरूसिंह, हेड कास्टेबल हमेरलाल, विश्वप्रताप सिंह, जयसिंह, मालीराम, नारायणसिंह, प्रेमकुमार मय टीम ने सेलीबे्रशन माल के पास तलाशी अभियान के दौरान चन्देरिया कपासन जिला चित्तोडगढ के दुपहिया वाहन चोर गिरोह के सरगना गोसूण्डा निवासी ईस्माइल उर्फ़ बबलु पुत्र अल्लानुर,कपासन निवासी गुलाब नबी पुत्र लियाकत अली, गोसूण्डा निवासी दिनेश पुत्र नाथूलाल लौहारा, अनिल कुमार पुत्र श्यामलाल जीनगर को गिरफ्तार कर इनके कब्जे से महंगी कीमत के २४ दुपहिया वाहनों को जब्त कर आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया। पूछताछ में आरोपियों ने उक्त वाहन सेलिब्रेशन मॉल, जनरल हॉस्पिटल, बी एन कॉजेल ग्राउण्ड के बाहर, चितौडगढ शहर, साबलिया हॉस्पिटल, कोर्ट परिसर, सांवलिया जी मंन्दिर, गोसूण्डा मेला, शहर के भीड भाड वाले इलाकों से चोरी करना स्वीकार किया। आरोपी डुप्लीकेट चाबी की मदद से वाहन चोरी की वारदात को अंजाम दिया करते थे। आरोपी इस्माईल उर्फ़ बबलु व गुलाम नबी के कपासन व कोटडी राजसमंद में मोटर साईकिल सर्विस सेन्टर खेले हुए है। जहां पर चोरी कर लाये गये वाहनों एवं पार्टस को सर्विस सेन्टर की आड में सस्तें दामों में बेचते व रिपेयरिंग में काम लेते थे। इस्माइल के खिलाफ चोरी के एवं गुलाम नबी के खिलाफ आम्र्स एक्ट के प्रकरण कपासन थाना पुलिस में दर्ज है। आरोपियों ने एक वर्ष में विभिन्न स्थानों से वाहन चोरी करने एवं सस्तें दामों में बेच कर खाने पीने एवं नशा करने में खर्चा करना स्वीकार किया। आरोपियों से पूछताछ की जा रही हैं और भी वारदातें खुलने एवं वाहन बरामदगी की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here