पोस्ट न्यूज़। राजस्थान के सीकर में आये दिन रेप के मामले बढ़ते जारहे है। ताज्जुब की बात यह है कि अधिकतर मामले नाबालिक लड़कियों के साथ हो रहे है। हाल ही में सीकर के लोसल इलाके के सिहोट गाँव में एक १५ वर्ष की नाबालिग के साथ दुष्कर्म के मामले को अंजाम दिया।
घटना में सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि दुष्कर्म के इस घिनोने कार्य को बालिका के चहेरे भाई के सामने ही उसके सहयोग से अंजाम दिया गया। घटना सामने आने के बाद पुलिस मामले की छानबीन करना शुरू कर दे है। अभी तक ाओपि का कोई सुराग नहीं लगा है।
जानकारी के अनुसार अर्जुन सिंह नाम का ट्रक चालक ने बालिका से मोबाइल पर संपर्क कर उसको अपने बहकावे में लेलिया। उसने बालिका को अपना नाम अर्जुन सिंह और गांव चुड़ोली बताया। आरोपित ने गांव की स्कूल और घर में दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। बालिका ने पुलिस को बताया है कि वारदात के दौरान उसका चचेरा भाई और बहन भी मौजूद थे। दुष्कर्म के आरोपित की तलाश में पुलिस चुड़ोली गांव गई तो वहां पर अर्जुन सिंह नाम का कोई व्यक्ति नहीं पाया। जांच में जुटी पुलिस के हाथ आरोपित का फोटो लग गया है। पुलिस अब फोटो के आधार पर उसकी तलाश कर रही है। अब तक जांच में आरोपित सरवड़ी का होने की बात सामने आई है।
सीकर में दुष्कर्म के मामले दिनोंदिन बढ़ते रहे हैं। इसी साल से अजीतगढ़ थाना इलाके में स्कूली छात्रा के साथ शिक्षकों द्वारा रेप करने और सीकर में कॉलेज की एक छात्र को जान-पहचान के युवक द्वारा शराब पिलाकर रेप किए जाने जैसे मामले भी सामने आ चुके हैं। इससे पहले सीकर के कल्याण सर्किल पर रात को अपनी मां के साथ सो रही चार साल की मासूम बच्ची को शिकार बनाया गया और इससे पहले सीकर में दामिनी प्रकरण हुआ।

LEAVE A REPLY