उदयपुर। एटीएस ने सोमवार को शहर में हथियारों के अवैध लाइसेंस व् हथियार की कार्रवाई करते हुए कुछ रसूखदार लोगों से हथियारों के लाइसेंस व् हथियार जब्त किये है। लाइसेंस की वैधता की जांच की जारही है क्यूँ की लाइसेंस जम्मू कश्मीर से जारी किये गए है।

रविवार को अजमेर में आर्म्स एन्ड एम्युनेशन डीलर वाली मोहम्मद एन्ड संस् के कारखाने में एटीएस द्वारा अवैध हथियारों की कार्रवाई के बाद राजस्थान के कई जिलों में एटीएस ने कार्रवाई कर वलि मोहम्मद एन्ड संस् द्वारा जारी किये गए हथियार के लाइसेंस व् हथियारों को जब्त करने की कार्रवाई को अंजाम दिया गया। उदयपुर एटीएस की एडिशनल एसपी रानू शर्मा ने बताया कि सोमवार को उदयपुर में कार्रवाई की गयी जिसमे वली मोहम्मद एन्ड संस् के मालिक उस्मान मोहम्मद और जुबेर मोहम्मद द्वारा सप्लाई किये गए हथियार व् लाइसेंस को जब्त करने की कार्रवाई की गयी।   बताया की उदयपुर से १३ लाइसेन्स व् २० हथियार जब्त किये गए है।लाइसेंस जम्मू कश्मीर से जारी होना बताया गया है। रानू शर्मा ने बताया कि लाइसेंस की वैधता की जांच की जारही है। अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। सूत्रों की माने तो शहर के कई रसूखदार लोगों ने जिसमे प्रॉपर्टी डीलर बड़े बड़े व्यवसायी  शामिल है उन्होंने अजमेर से वली एन्ड संस् से लाइंसेंस बनवाया था तथा हथियार ख़रीदे थे।
गौर तलब है कि रविवार को अजमेर में आनासागरलिंक रोड पर एटीएस उदयपुर, जोधपुर जयपुर की टीमों ने आर्म्स एंड एम्युनेशन डीलर वली मोहम्मद एंड संस के बंगले पर दबिश देकर अवैध हथियारों का जखीरा पकड़ा था। जांच में यह सामने आया है कि हथियारों की खेप कश्मीर सहित अन्य राज्यों तक पहुंच रही थी।  बंगले से भारी संख्या में विदेशी मार्का लगी बंदूकें, रिवाल्वर सहित अन्य हथियार बरामद हुए थे। एटीएस को सूचना मिली थी कि वली मोहम्मद की मौत के बाद उसका बेटा उस्मान मोहम्मद आैर पोता जुबेर आर्म्स एंड एम्युनेशन के डीलर की आड़ में अवैध हथियारों की सौदेबाजी कर रहे हैं। उसी कड़ी में जहाँ जहाँ वली मोहम्मद एंड संस ने हथियारों की सप्लाई की है वहां कारवाई की जारही है।

LEAVE A REPLY