Headlines :-

खबर 1 – नई गाइड लाइन पर 2 घंटे बैठकलेकिन नतीजा नहीं:दाे दिन में ही 186 रोगी मिले6 मौतेंप्रशासन बोला- कंटेनमेंट जोन जरूरी नहीं

खबर 2 – चुनाव ड्यूटी से लाैटते ही कांस्टेबल ने लगा ली फांसीप्रेम प्रसंग का मामलाआखरी बार युवती से की फोन पर बात

खबर 3 – शेखावत का कहना है ,कृषि बिल पर हमारी नीयत में खाेट नहींकुछ लाेगाें का झूठ ज्यादा दिन नहीं चल सकता ,कलेक्ट्री में एनअाईसी के वीसी रूम से राष्ट्रीय सरपंच संसद के वर्चुअल उद्घाटन कार्यक्रम में हुए शामिल

खबर 4 भिंडर पंचायत समिति व कानोड़ क्षेत्र की पांच पंचायत समिति सदस्यों की सीटों पर जनता सेना व कांग्रेस में कांटे की टक्कर

खबर 5 सीबीसी न्यूज़ की खबर का हुआ जोरदार असर,हरकत में आया पीडब्ल्यूडी विभागअधूरी सड़क का काम हुआ शुरू

खबर 6 जयसमंद पंचायत समिति की बड़गाँव सल्लाड़ा सीट पर भी दिखा जनता सेना का दमखम ,पूर्व विधायक रणधीर सिंह भिंडर ने लिया कांग्रेस को आड़े हाथ

…………………………………………………………………………………………………………………………

खबर 1 – नई गाइड लाइन पर 2 घंटे बैठकलेकिन नतीजा नहीं:दाे दिन में ही 186 रोगी मिले6 मौतेंप्रशासन बोला- कंटेनमेंट जोन जरूरी नहीं

Udaipur. कोरोना केस बढ़ते जा रहे हैं। जुलाई के बाद रोग का रिकाॅर्ड हर महीने टूटता जा रहा है और मरीज बढ़ते जा रहे हैं। नवंबर में नया रिकॉर्ड बना और दिसंबर के दो ही दिन में 186 रोगी सामने आ गए। छह की जान भी चली गई। इसके बावजूद प्रशासन और चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग कंटेनमेंट जोन नहीं निकाल पाया है। नई गाइड लाइन को लेकर शहर के सर्वाधिक कोरोना प्रभावित 10 क्षेत्रों के गली-मोहल्लों को कंटेनमेंट जोन तय करने के लिए कलेक्टर चेतन देवड़ा और सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी के बीच बुधवार शाम 5.15 से 7.20 बजे तक बैठक बेनतीजा रही। कहीं भी लॉकडाउन लगाने का निर्णय नहीं हुआ। कलेक्टर ने कहा कि अभी कंटेनमेंट जोन निर्धारित करने जैसी स्थिति कहीं भी पैदा नहीं हुई है। किसी क्षेत्र का मोहल्ला विशेष नहीं है, जिसमें लॉकडाउन लगाने जैसे कड़े कदम उठाए जाएं। लोगों को भी एहतियात बरतने होंगे। सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी ने कहा कि जरूरत समय पर कोरोना जांच कराने की है। कोरोना संक्रमण का समय पर पता चलने से रिकवर होने में आसानी रहती है। देश-दुनिया में कोरोना महामारी से बचाव के लिए कोई दवा सामने नहीं आई है। बता दें, उदयपुर में अब तक 9780 कोरोना संक्रमित सामने आ चुके हैं। इसी रफ्तार से आगे बढ़े तो 2-3 दिन में यह आंकड़ा 10 हजार पार हो जाएगा। बता दें, कोरोना अब तक उदयपुर के 165 लोगों की जान भी ले चुका है और दीवाली बाद से यहां संक्रमितों का ग्राफ बढ़ता ही जा रहा है। प्रशासन भले ही इस नतीजे पर पहुंचा है कि फिलहाल कंटेनमेंट जोन बनाने जैसे हालात नहीं हैं और यह भी कोई नहींं चाहता कि लॉकडाउन लगे। लेकिन यह न भूलें कि खतरा टला नहीं है। यह बड़ा तो है ही, बढ़ा भी है। आमजन को भी सहयोग करना होगा। मास्क, सोशल डिस्टेंस की पालना तो करनी ही होगी, भीड़ का हिस्सा बनने से भी खुद को रोकना होगा। विभाग भी यही कह रहा है कि खांसी-जुकाम, बुखार जैसे लक्षण दिखते ही तुरंत जांच करवाएं। वैक्सीन फिलहाल नहीं है, लेकिन समय रहते मर्ज पहचान में आने पर देखभाल कर जान बचाई जा सकती है। ज्ञात रहे, 15 दिन में सेक्टर-3 से 5, सेक्टर-11, सेक्टर-14, अंबामाता, विवि मार्ग, शोभागपुरा, फतहपुरा, भूपालपुरा और प्रतापनगर क्षेत्र की 45 कॉलोनियों में औसत 15-15 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं।

 

खबर 2 –  चुनाव ड्यूटी से लाैटते ही कांस्टेबल ने लगा ली फांसीप्रेम प्रसंग का मामलाआखरी बार युवती से की फोन पर बात

Udaipur. सूरजपाेल थाना क्षेत्र के देव दर्शन हाेटल में मंगलवार रात 23 साल के कांस्टेबल हेमंत पुत्र श्रीचंद मेघवाल ने फांसी लगा ली। हेमंत दाे साल पहले ही कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में चुना गया था। वह बीकानेर के बाेहड़ी गांव का रहने वाला था और चित्ताैड़गढ़ वायरलेस में तैनात था। गत 20 नवंबर से यहां चुनाव ड्यूटी पर था। उसने अात्महत्या से पहले किसी युवती से फाेन पर बात की थी। इससे प्रेम प्रसंग का मामला सामने आया है। थानाधिकारी पुनाराम ने बताया कि रात काे सूचना मिलने पर हाेटल पहुंचे ताे वह फंदे पर लटका मिला। बुधवार शाम काे पाेस्टमार्टम करा शव परिजनाें काे साैंप दिया। बताया कि 20 नवंबर काे हेमंत चुनाव ड्यूटी में उदयपुर अाया था। तीसरे चरण के चुनाव में कुराबड़ के काेट गांव में ड्यूटी देकर वह रात करीब 8 बजे हाेटल पहुंचा था। एफएसएल प्रभारी अभय प्रतापसिंह ने माैके पर पहुंच जांच की। हेमंत के साथी कांस्टेबलाें ने बताया कि चुनाव ड्यूटी के बाद करीब 8 बजे हाेटल पहुंचे थे। इसके बाद सभी खाना खाकर अपने कमरे में साे गए। रात काे अचानक एक युवती का फाेन अाया अाैर हेमंत से बात करने काे कहा। उसकाे तलाश किया ताे हाेटल में जहां हमारे कमरे थे, उसके सामने वाले कमरे खाली थे। उसमें से एक कमरे की लाइट ऑन थी। राेशनदान में झांककर देखा ताे वह फंदे से लटका था। इसके बाद दरवाजे काे ताेड़ा और अंदर पहुंचे।

 

खबर 3 – शेखावत का कहना है ,कृषि बिल पर हमारी नीयत में खाेट नहींकुछ लाेगाें का झूठ ज्यादा दिन नहीं चल सकता ,कलेक्ट्री में एनअाईसी के वीसी रूम से राष्ट्रीय सरपंच संसद के वर्चुअल उद्घाटन कार्यक्रम में हुए शामिल

Udaipur. पूर्व सांसद किरण माहेश्वरी काे पुष्पांजलि देने उदयपुर आए केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेेंद्रसिंह शेखावत ने मीडिया से बातचीत में कहा कि माेदी सरकार जनहित के काम में लगी हैं। कुछ लाेग किसानाें के नाम आंदाेलन कर रहे हैं, इसकाे देख यह नहीं कह सकते कि पूरे देश का किसान आंदाेलन पर हैं। शेखावत ने कहा कि देश भर का किसान मानता है कि माेदी सरकार ने जाे कहा, वाे करेगी। सरकार पूरी तरह से किसान हित पर काम कर रही है। किसानाें की आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य है। हाल ही संसद में पारित कृषि बिल काे लेकर कोई कुछ भी कहे, लेकिन हमारी नीयत में काेई खाेट नहीं है। कुछ लाेगाें का झूठ ज्यादा दिन नहीं चल सकता। उदयपुर पहुंचने पर सर्किट हाउस में कलेक्टर चेतन देवड़ा, एसएसपी कैलाश चंद्र बिश्नाेई और पूर्व उप महापाैर महेंद्रसिंह शेखावत ने केंद्रीय मंत्री से शिष्टाचार भेंट की। कलेक्ट्री से ऑनलाइन राष्ट्रीय सरपंच संसद में हुए शामिल : शेखावत दाेपहर में कलेक्ट्री में एनआईसी के वीसी रूम से राष्ट्रीय सरपंच संसद के वर्चुअल उद्घाटन कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्हाेंने कहा कि गांवाें में स्वच्छता और जल संरक्षण में सभी सरपंचाें की बड़ी भू्मिका है, वे इसमें सक्रियता दिखाएं। देश को मजबूत करने के लिए भारतीय लोकतंत्र की सबसे छोटी इकाई गांवों को विकसित करने के उद्देश्य से हुई राष्ट्रीय सरपंच संसद के उद्घाटन समारोह में शेखावत ने गांधीवादी सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे सहित देश के कई लोगों से चर्चा की। शेखावत ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश को आत्मनिर्भर बनाने का जो संकल्प लिया है, उसकी सिद्धि की शुरुआत “आत्मनिर्भर पंचायतों” से ही होगी। कृषि बिल के विराेध में बुधवार काे एनएसयूआई कार्यकर्ताओ ने वीआईपी काॅलाेनी में उदयपुर सांसद अर्जुन मीणा के निवास और कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया। प्रदेश महासचिव मोहित नायक ने कहा कि कृषि बिल किसान हित में नहीं है, इस बिल काे वापस लिया जाए। कहा कि सांसद मीणा काे भी केंद्र सरकार के सामने किसान हित का पक्ष रखना चाहिए। हिमांशु पंवार, पूर्व अध्यक्ष भाग्योदय सोनी, भूपेंद्र सिंह देवड़ा, चिराग चौधरी, देवेंद्र सिंह राठौड़ और शुभम शर्मा भी मौजूद थे।

 

खबर 4 –  भिंडर पंचायत समिति व कानोड़ क्षेत्र की पांच पंचायत समिति सदस्यों की सीटों पर जनता सेना व कांग्रेस में कांटे की टक्कर

Udaipur. उदयपुर जिले की सबसे हॉट सीट  मानी जाने वाली भिंडर पंचायत समिति की 19 सीटों पर मतदान जमकर हुआ है। वही कानोड क्षेत्र की अमरपुरा जागीर सीट पर कांग्रेस व जनता सेना के बीच कांटे की टक्कर बताई जा रही है।  ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं।  कि यह सीट जनता सेना के पक्ष में जा सकती है। वही बात लूंणदा सीट की की जाए। तो इसी पर भी कांग्रेस व जनता सेना के बीच भारी टक्कर बताई जा रही है। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि यह  सीट कांग्रेस के पाले में जा सकती हैं। वही बात सारंगपुरा कानोड़ सीट की की जाए।  तो इस सीट पर कांग्रेस व जनता सेना के बीच टक्कर देखी जा रही है। इस सीट के रोचक परिणाम भी हो सकते हैं। हालांकि राजनीतिक गणित के पंडित इस सीट को जनता सेना के पक्ष में बता रहे हैं।  वही बात आकोला सीट की की जाए। तो इस सीट पर जनता सेना , कांग्रेस, कुबेर सेना के बीच टक्कर बताई जा रही है। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि यह सीट भी जनता सेना के पाले में जा सकती है। वहीं अंतिम सीट पिथलपुरा की की जाए।  तो इसी पर जनता सेना , भाजपा, कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय संघर्ष देखा जा रहा है। लेकिन इस सीट पर परिणाम काफी रोचक होने वाले हैं। जीत का अंतर काफी कम रह सकता है। वहीं चाय की थड़ीऔ पर राजनीतिक  पंडित  गणित बिठाने में लगे हैं। लेकिन ऐसा कयास लगाया जा रहा है कि यह सीट भी जनता सेना के पाले में जा सकती है। ऐसे में कानोड़ क्षेत्र की 4 सीटों पर जनता सेना बाजी मारते दिख रही है।  तो वहीं एक सीट पर कांग्रेस अपना परचम लहरा सकती है। भाजपा का खाता भी नहीं खुलता दिख रहा है।  अब देखना यह होगा कि 8 तारीख को परिणाम क्या रहता है। हालांकि कयास कुछ भी लगाए जा सकते हैं।  लेकिन मतदाताओं ने अपना मत ईवीएम में डालकर प्रत्याशियों की धड़कनें तेज कर दी है। गौरतलब है कि भिंडर पंचायत समिति व कानोड़ क्षेत्र कि अमरपुरा जागीर, आकोला, सारंगपुरा कानोड़,पिथलपुरा,लुणदा। इन सभी पंचायतों पर कांग्रेस ने कई वर्षों से अपनी धाक जमा रखी है।  लेकिन इस बार कांग्रेस का गढ़ जनता सेना ढहा सकती है। हालांकि इन सभी सीटों पर परिणाम काफी रोचक देखने को मिलेंगे।

 

खबर 5 –  सीबीसी न्यूज़ की खबर का हुआ जोरदार असर,हरकत में आया पीडब्ल्यूडी विभागअधूरी सड़क का काम हुआ शुरू

Udaipur. उदयपुर जिले की कानोड़ तहसील मुख्यालय के वन विभाग कार्यालय के पास से आदेश्वर मंदिर बड़ा राजपुरा तक 53 लाख की लागत से बनने वाली। संपर्क सड़क का निर्माण 2 वर्ष से आयुर्वेद औषधालय व आदैश्वर मंदिर के सामने के सड़क का काम अधूरा पड़ा था। जिसको लेकर पास खबर सम्राट नेे प्रमुखथा  से दिखाता हुए। विभाग का इस ओर ध्यान खींचा था। और खबर को दो बार प्रमुखता से  दिखाने के बाद। पीडब्ल्यूडी विभाग के नुमाइंदे कुंभकर्णी नींद  से जागे। और संबंधित ठेकेदार को निर्देशित करते हुए। सड़क का कार्य शुरू करवाया। अधूरी छोड़ी गई। प्रस्तावित सड़क सीसी रोड बनना है। सड़क का कार्य शुरू होने के बाद बड़ा राजपुरा के ग्रामीणों ने खबर  सम्राट व पूर्व विधायक रणधीर सिंह भिंडर का आभार जताया है। गौरतलब है कि उक्त सड़क गत वसुंधरा राजे सरकार व पूर्व विधायक रणधीर सिंह भिंडर के कार्यकाल में पीडब्ल्यूडी विभाग के माध्यम से वन विभाग कार्यालय से आदेश्वर मंदिर बड़ा राजपुरा तक संपर्क सड़क के नाम से 53 लाख रूपये स्वीकृत हुए थे। जिसका शिलान्यास तत्कालीन विधायक रणधीर सिंह भिंडर ने किया था और कार्य शुरू भी हो गया था, लेकिन विधानसभा चुनाव के बाद काम बंद कर सड़क का कार्य आयुर्वेद औषधालय व आदैश्वर मंदिर के सामने छोड़ दिया गया है। जिसके बाद पूर्व विधायक रणधीर सिंह भिंडर ने जोधपुर हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया हाईकोर्ट ने संबंधित विभाग को वहां तलब कर।कहा कि पूर्व विधायक रणधीर सिंह भिंडर के कार्यकाल में स्वीकृत हुई।  सड़क का काम पूरा किया जाए। जिसके बाद से ही पीडब्ल्यूडी विभाग ने 2 साल से अधूरी छोड़ी गई वन विभाग कार्यालय कानोड़ से आदेश्वर मंदिर बड़ा राजपुरा तक सड़क का काम शुरू करवा दिया है। नंदलाल पाटीदार पूर्व वार्ड पंच बड़ा राजपुरा का कहना है की बड़ा राजपुरा गांव के वासियों की वर्षों पुरानी मांग सड़क वन विभाग कार्यालय से आदेश्वर मंदिर तक की थी। जो तत्कालीन विधायक रणधीर सिंह भींडर के कार्यकाल में  पूरी हुई थी। जिसका शिलान्यास पूर्व विधायक भिंडर ने ही किया था। कुछ हिस्से पर उनी के कार्यकाल में सड़क पर डामरीकरण हो गया। लेकिन विधानसभा चुनाव होने के बाद  ,आदेश्वर मंदिर व आयुर्वेद औषधालय के बाहर सड़क अधूरी छोड़ी गई थी। जिसको लेकर पूर्व विधायक भिंडर ने हाईकोर्ट का दरवाजा भी खटखटाया था जहां पर पीडब्लूडी विभाग को हाई कोर्ट  ने तलब कर काम शुरू करने के निर्देश दिए थे जिसका काम अब शुरू हो गया है।

 

खबर 6 –  जयसमंद पंचायत समिति की बड़गाँव सल्लाड़ा सीट पर भी दिखा जनता सेना का दमखम ,पूर्व विधायक रणधीर सिंह भिंडर ने लिया कांग्रेस को आड़े हाथ

Udaipur. उदयपुर जिले की नवगठित जयसमन्द पंचायत समिति की बड़गाँव सल्लाड़ा सीट  भी हॉट बनती जा रही है।  इस सीट पर जनता सेना के  प्रत्याशी किशोर जोशी के मैदान में होने से भाजपा कांग्रेस की नींद उड़ी हुई है। जनता सेना के संरक्षक व वल्लभनगर के पूर्व विधायक रणधीर सिंह भींडर ने नुक्कड़ सभा कर।  कांग्रेस पर खूब व्यंग कसे। और कहा कि कांग्रेस की सरकार ने 2 साल में जनता की सुध नहीं ली है। साथ ही उन्होंने भाजपा को भी आड़े हाथ लिया। पूर्व विधायक भिंडर ने आम सभा में मौजूद जनसमूह को कहा कि जनता सेना को एक बार आप मौका देकर देखिए विकास की गंगा बहा देंगे। आम सभा को जनता सेना ज़िला महामंत्री पारस नागौरी, युवा जनता सेना के रवि गर्ग ने भी आम सभा को संबोधित किया। आम सभा से पूर्व वाहन रैली भी निकाली गई।  इस दौरान सैकड़ों की तादाद में लोग मौजूद थे।

____________________________________________________________________

Watch Full Video On YouTube – https://youtu.be/nZ2L6H7R4p0

Subscribe Our Channel – https://www.youtube.com/channel/UC13eeUsfNS-BfFgLLZzPHJw?view_as=subscriber

Like Our FaceBook Page (Udaipur Post) – https://www.facebook.com/UdaipurPost

                                         (CBC Wire )      –https://www.facebook.com/cbcnewswire

Follow Us On Instagram (Udaipur Post) –https://www.instagram.com/udaipurpost/

                                         (CBC Wire )      – https://www.instagram.com/cbcwire/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here