उदयपुर। शहर के एक हीरो ने डूबती बच्ची को बिना अपनी जान की परवाह किये पानी में छलांग लगा कर बचा लिया।
उदयपुर शहर के छोटू भाई ड्राइवर ने एक मासूम को फतहसागर झील में डूबने से बचा लिया। रविवार दोपहर को एक परिवार उदयपुर घुमने आया था। पर्यटक परिवार फतहसागर पाल पर झील के सोंदर्य का आनंद उठा रहा था उसी वक़्त उनके साथ आई सात साल की बच्ची पाल पर बनी छतरी की डोली से झील में झुक कर पानी को छुने की कोशिश कर

जांबाज़ ड्राइवर छोटू भाई

रही थी तभी बेलेंस बिगड़ा और बच्ची झील में जा गिरी। परिजनों ने देखते ही शोर मचाया। शोर सुन कर उसी वक़्त छोटू भाई ड्राइवर जो अन्य पर्यटकों को फतहसागर घुमाने के लिए आये थे उन्होंने बच्ची को डूबते देखा, इससे पहले कि कोई कुछ और सोच पाता छोटू भाई ने पलक झपकते ही कपड़ों समेत फतहसागर में छलांग लगा दी और बच्ची पानी की गहराई में जा कर खो जाती उसके पहले उसको बचा कर बाहर निकाल लिया। सलाम हे ऐसे जांबाज़ युवक छोटू भाई को जिन्होंने एक पल कुछ और ना सोच कर एक बच्ची की जान को सबसे कीमती मान कर उसको बचा लिया। बच्ची के परिवार वालों ने छोटू भाई का बहुत बहुत आभार जताया। उदयपुर पोस्ट भी छोटू भाई का धन्यवाद और शहर का मान बढ़ने के लिए उनकी आभारी है।

LEAVE A REPLY