उदयपुर। महिलाओं के खिलाफ अपराध काम होने का नाम नहीं ले रहे है। हर बार कई घिनोने लोगों की अजीब अजीब विकृत मानसिकता जाहिर होती रही है। लेकिन हद तब हो जाती है जब रक्षक ही भक्षक बन कर सामने आजाये। 
राजस्थान के गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया के गृहक्षेत्र में एक पुलिस कर्मी की ऐसी घिनौनी हरकत सामने आयी है जिसको सुन और देख कर हर को शर्मसार हो जाए। 
राजस्थान के उदयपुर शहर की रहने वाले एक युवती एक पुलिसकर्मी की हरकतों से परेशां हो कर सूरजपोल थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाने पहुंची। जो कुछ उस युवती ने बताया वह सिर्फ खाकी वर्दी ही नहीं इंसानियत को भी शर्मसार करने वाला था। भीमसिंघ जादौन नाम के इस पुलिसकर्मी ने इंसानियत की सारी हदंे पार करते हुए इस विवाहिता महिला को न सिर्फ घिनौना अश्लील पत्र लिखा, बल्कि उसके साथ हम बिस्तर होने के लिए काफी अभद्र भाशा का प्रयोग भी किया। 
विवाहिता युवती ने पुलिसकर्मी भीमसिंह जादौन के खिलाफ अश्लील हरकते करने और जबरन सम्भोग के लिए दबाव बनाने के गंभीर आरोप लगाये है। निम्बाहेड़ा की रहने वाली विवाहिता ने बताया कि वह अपने पति के साथ यहां किराये के घर मे रहती है। उसी मकान में उसके पीछे रहने वाला करौली निवासी भीमसिंह जादौन कई दिनों से उसके साथ छेड़छाड़ कर रहा था, सम्भोग करने के लिए दबाव भी बना रहा था। आरोपी पुलिसकर्मी पिछले कई दिनों से मकान में आते – जाते विवाहिता को जबरन छूता और गंदी बातें कर उसके साथ सम्बन्ध बनाने का प्रस्ताव रख चुका था। इतना ही नहीं पुलिसकर्मी भीम सिंह ने शनिवार सुबह नहाने गई विवाहिता के बाथरूम मे एक लेटर फैंका जिसमे आपत्तिजनक शब्दों के सा​थ जबरन संभोग करने की धमकी भी दे रही थी । डरी सहमी विवाहिता जब बाथरूम से बाहर निकली तो हवस का पुजारी पुलिसकर्मी बाहर ही खड़ा था और उसे गंदे – गंदे इशारे कर रहा था। घबराई विवाहिता भागकर अपने कमरे गई और कुण्डी लगाकर इसकी जानकारी अपने पति को दी। जिसके बाद विवाहिता की ओर से सूरजपोल थाने में भीम सिंह के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई। सूरजपोल थाना पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए आगे की जांच षुरू कर दी है लेकिन पीड़ित महिला और उसका पति काफी घबराया हुआ है क्योंकि आरोपी पुलिसकर्मी ने धमकी दी है कि उसके ससूर एसपी है और वह खुद पुलिसवाला कोई उसका कुछ भी नहीं बिगाड़ सकता है।
आइये आप भी सुनिए विवाहिता की ज़ुबानी कि उसको क्या सहना पद रहा है। 
इस मामले में पुलिस की तरफ से आधिकारिक बयान किसी अधिकारी का नहीं आया है पुलिस के अनुसार मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी है।  देखते है पुलिस अपने ही पुलिस कर्मी के खिलाफ सही जांच कर इस परेशां विवाहिता और उसके पति को इन्साफ दिलाती है या नहीं।  

LEAVE A REPLY