IMG_20151022_161155न्यायालय परिसर में ई-लाइब्रेरी भवन का शिलान्यास
उदयपुर में हाईकोर्ट बैंच के लिए करेंगे सकारात्मक प्रयास-कटारिया
उदयपुर, गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि उदयपुर में हाईकोर्ट बैंच की स्थापना की दिशा में जनजाति बाहुल्य क्षेत्र को आधार बनाकर सकारात्मक प्रयास किए जाएंगे। श्री कटारिया गुरुवार को उदयपुर जिला एवं सत्र न्यायालय परिसर में बार एसोसिएशन सभागार में आयोजित ई-लाइब्रेरी के शिलान्यास समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि हाईकोर्ट बैंच स्थापना के लिए सरकार, अधिवक्ता एवं प्रबुद्धजन को प्रभावी प्रयास करते हुए ठोस आधार पर मांग रखने की आवश्यकता है। उन्होंने इस दिशा में सरकार के स्तर पर पुरजोर प्रयास करने का आश्वासन दिया। उन्होंने उदयपुर में नये कोर्ट केम्पस को स्मार्ट सिटी योजना से जोड़ते हुए कहा कि इसके लिए सभी को एक राय बनानी होगी। उन्होंने जनजाति विश्वविद्यालय के लिए उदयपुर डेयरी के नजदीक आरक्षित जमीन को भविष्य में नये कोर्ट परिसर के रूप में विकसित करने का भी सुझाव दिया।
IMG_20151022_161605उन्होंने कहा कि न्यायालय में आमजन के सुविधार्थ एकीकृत इन्फोर्मेशन सिस्टम विकसित करने की जरूरत है जहां से पेशी पर आने वाले व्यक्तियों को सुनवाई का समय ज्ञात हो जाये तथा अनावश्यक अपनी बारी के लिए परेशान न होना पड़े।
उन्हांेंने कोर्ट परिसर में ई-लाइब्रेरी की स्थापना को न्यायिक व्यवस्था के क्षेत्र में महत्वपूर्ण पहल बताते हुए कहा कि इससे अधिवक्ताओं को और अधिक सुविधाएं एक ही स्थान पर मुहैया होगी।
इस मौके पर राजस्थान उच्च न्यायालय के न्यायाधीश गोविन्द माथुर ने कहा कि वैश्वीकरण के दौर में न्याय के क्षेत्र में भी बदलाव की जरूरत है। ऐसे में जनजाति उपयोजना क्षेत्र में हाईकोर्ट बैंच की स्थापना भी महत्वपूर्ण कड़ी सिद्ध हो सकती है। उन्होंने आमजन को त्वरित न्याय दिलाने की दिशा में स्मार्ट कोर्ट्स की स्थापना आज के दौर की महती आवश्यकता है। उन्होंने जिला न्यायालय भवन के विस्तार में उच्च न्यायालय के स्तर पर हर आवश्यकता को पूरा करने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि राज्य में विभिन्न न्यायालयों में रिक्त पद भरने की प्रक्रिया जारी है जिसमें 21 जिला न्यायालय एवं 105 अधीनस्थ न्यायालयों के पद भरे जा सकेंगे।
महापौर चन्द्रसिंह कोठारी ने बताया कि नगर निगम ने अपने नवीनतम कार्यकाल में सामान्य विकास कार्यों के साथ-साथ लोक भागीदारी के कार्यों मे बढ़-चढ़ कर योगदान दिया है। इसी के तहत 32 लाख लागत का ई-लाइब्रेरी भवन कोर्ट परिसर में निर्मित होगा। उन्होंने अधिवक्ता चेम्बर्स की मांग को भी पूरा करने का आश्वासन दिया। उदयपुर ग्रामीण विधायक फूलसिंह मीणा ने आमजनता को न्याय दिलाने की दिशा में जिम्मेदार तबके को श्रेष्ठ सोच बनाने की जरूरत बताई।
इस अवसर पर राजस्थान सरकार के अतिरिक्त महाधिवक्ता पुष्पेन्द्र सिंह भाटी ने अधिवक्ताओं से दृढ़ निश्चय और संविधान के प्रति निष्ठा भाव के साथ आगे बढ़ने की बात कही। समारोह को पार्षद पारस सिंघवी ने भी संबोधित किया।
आरंभ में स्वागत उद्बोधन बार एसोसिएशन अध्यक्ष प्रवीण खण्डेलवाल ने ई-लाइब्रेरी के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला और अधिवक्ताओं की मांगों की ओर भी ध्यान आकृष्ट किया। आभार बार महासचिव कैलाश भारद्वाज ने जताया। समारोह में पूर्व विधानसभाध्यक्ष शांतिलाल चपलोत, क्षेत्रीय पार्षद श्रीमती शोभा मेहता, पूर्व उपसभापति वीरेन्द्र बापना, हीरालाल कटारिया, प्रमुख समाजसेवी दिनेश भट्ट सहित बड़ी संख्या में अधिवक्ता एवं गणमान्य लोग मौजूद थे।

LEAVE A REPLY