imagesपिलखुवा/हापुड़. गुरुवार को पिलखुवा के एक मोहल्ले में दस वर्षीय बच्ची के साथ बलात्‍कार करने वाला पकड़ा गया है। रि‍श्‍तों को दागदार करते हुए बच्‍ची के साथ मुंह काला करने वाला उसका सगा भाई था। अपनी पहचान छिपाने के लिए उसने अपने चेहरे पर कपड़ा लपेट रखा था।

 

पि‍लखुआ कोतवाली प्रभारी विमल कुमार यादव के मुताबि‍क थाना क्षेत्र में बुलंदशहर के एक गांव का परिवार किराये के मकान में रहता है। गुरुवार को मि‍यां-बीवी किसी काम से घर के बाहर गए थे। उनकी दस वर्ष की बच्ची घर पर अकेली थी। कोतवाली प्रभारी के मुताबि‍क उनका एक पुत्र नशे की आदत के कारण अधिकांश समय घर से बाहर ही रहता है।

दोपहर बाद उनके पुत्र ने नकाब ओढ़कर घर में घुसा और बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। बच्ची को गंभीर हालत में गाजियाबाद के अस्पताल में भर्ती कराया गया। इतना ही नहीं, जब पीड़िता के पिता मामले की रि‍पोर्ट दर्ज कराने थाने पहुंचे तो कलयुगी भाई भी उनके साथ ही था। पुलिस को भाई की गतिविधि संदिग्ध लगी। पुलिस ने भाई से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया।

 

पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। एएसपी सुधीर कुमार सिंह का कहना है कि पुलिस जांच में पीड़ित का भाई ही दोषी पाया गया है। वह नशे का आदी है और अधिकांश समय घर से बाहर ही रहता था। उसे पता था कि किस समय उसके माता पिता घर में नहीं होते हैं। इसी के चलते उसने घटना को अंजाम दिया

LEAVE A REPLY