उदयपुर। राजस्थान के नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया वैसे तो भाजपा के वरिष्ठ और कद्दावर नेता में गिने जाते है लेकिन आजकल भाईसाहब की ज़बान हमेशा धोखा दे जाती है। विवादास्पद बयान का भाईसाहब का पुराना नाता है। ख़ास कर विरोधियों के लिए और अब समाज विशेष के लिए। लेकिन मंगलवार के दिन श्री गुलाबचंद कटारिया ने हद कर दी और अपने भाषण में सीधे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बयान देते हुए कह दिया कि हमने किसी व्यक्ति की पूजा नहीं की हम किइस व्यक्ति की नौकरी करने के लिए पैदा नहीं हुए है। चाहे देश का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हो या कोई भी हो हम उसकी चाकरी करने के लिए पैदा नहीं हुए है।

देखिये विडियो 

 

मंगलवार को कटारिया भीलवाड़ा शहर के माणिक्यलाल वर्मा राजकीय महाविद्यालय के छात्र संघ उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे. उन्होंने कहा, मैं थोड़ा और पढ़ा होता तो राजनीति में ज्यादा योग्य होता. उन्होंने अखिल भारतीय परिषद (एबीवीपी) की ओर से नवनिर्वाचित छात्रसंघ अध्यक्ष से कहा कि मन छोटा मत रखो. विरोध को बर्दाश्त करो. दुनिया को जोड़कर चलना है, तोड़कर नहीं. मिलकर देश को आगे बढ़ाना है. यह जो छोटी सोच है, इससे मैं नहीं डरता हूं. मैं धमकियां से भी नहीं डरता हूं. अगर डरता तो विद्यार्थी परिषद का कार्यकर्ता होते हुए इमरजेंसी में 18 महीने जेल में नहीं गुजारता. हमने कभी कायरता नहीं दिखाई है. किसी को 18 दिन जेल में रख दें तो हाथ जोड़कर बाहर आ जाएगा. मेरे मामाजी ने मुझसे कहा था कि माफी लिख दो तो जेल से छुड़ा देंगे. मैने कहा, लाश बाहर आ सकती है, मैं नहीं.
उन्होंने कहा कि जिन उदेद्श्यों को लेकर संगठन बनाया है, उससे हम पीछे नहीं हट सकते हैं. देश को रोकने का जो प्रयास करेगा उससे लड़ाई करेंगे. कटारिया यहां भी नहीं रुके. उन्होंने कहा, 40-41 साल की राजनीति हो गई. कोई एक काला धब्बा दिखा दे तो जान जाएंगे. हम ऐसी गंदी राजनीति नहीं करते हैं. अपने घर को भरने का धंधा नहीं करते हैं. मालामाल होने का काम नहीं करते हैं. देश भ्रष्टाचार की भट्टी में जल रहा था, तब ऐसे प्रधानमंत्री ने इसे बचाने का काम किया है. कार्यक्रम में सांसद सुभाष बहेडि़या, पूर्व मुख्य सचेतक कालूलाल गुर्जर, विधायक विट्ठलशंकर अवस्थी, एबीवीपी के प्रांत संगठन मंत्री राजेश गुर्जर आदि उपस्थित थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here