उदयपुर पोस्ट . डेरा सच्चा सौदा का प्रमुख बाबा गुरमीत  राम रहीम सिंह को कोर्ट ने सजा देने में कोई रहम नहीं दिखाया और बलात्कार के दोनों मामलों में गुरमीत को 10 – 10 साल की कैद सुनाई . दोनों सजाएं एक साथ नहीं चलेगीं दोनों सजाएं एक के बाद एक अलग अलग दी जायेगीं . सज़ा सुनते ही गुरमीत आँखों में आंसू लिए थरथर कांपता गया और रहम की भीख माँगता रहा. लेकिन बलात्कारी के साथ कोर्ट ने कोई रहमदिली नहीं दिखाई .

इसके साथ ही कोर्ट ने दोनों मामलों में 15-15 लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया. इनमें से 14-14 लाख रुपये दोनों मामलों की पीड़िताओं को दिए जाएंगे. सीबीआई के प्रवक्ता आर.के. गौड़ ने गुरमीत राम रहीम को 20 साल की सज़ा मिलने की पुष्टि की है.

हरियाणा में रोहतक की सुनारिया जेल के अंदर लगी विशेष अदालत में जज जगदीप सिंह ने यह सज़ा सुनाई.

इससे पहले 25 अगस्त को पंचकुला में सीबीआई की विशेष अदालत ने गुरमीत राम रहीम सिंह को साल 2002 में दो महिलाओं से बलात्कार का दोषी माना था.

LEAVE A REPLY