3
उदयपुर। राजसमन्द नेशनल हाइवे आठ पर पसून गाँव के पार एक बोलेरो जीप सामने से तेज गति से आती हुई ट्रक से टकरा गयी जिससे बोलेरो में सवार सभी ११ लोगों की मोके पर ही दर्दनाक मौत हो गयी। एक्सीडेंट इतना भयानक था कि बोलेरो के साथ साथ सवार लोगों के शरीर के भी चिथड़े उड़ गये। मरने वाले सभी लोग भीलवाडा से शादी का रिश्ता तय कर के आ रहे थे। मरने वालों में पांच मासूम बच्चे चार महिलाएं और दो पुरुष है। मोके पर पुलिस अधिकारियों ने पहुच 2कर बोलेरो के मलबे और ट्रक के निचे से शवों को निकाला और पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा।
पुलिस जानकारी के अनुसार राजसमंद में कुंभलगढ़ के कड़िया का रहने वाला परिवार एवं उनके कुछ रिश्तेदार बोलेरो जीप में सवार हो भीलवाड़ा के गंगापुर में शादी का संबंध तय करने गया था। वापसी में ये लोग दो रिश्तेदारों को कुंभलगढ़ के सियाणा गाँव में छोड़ने जा रहे थे। इसके बाद इन्हें कुंभलगढ़ जाना था। राजसमन्द थाना के पसून गाँव के पास गलत साइड से एक तेज गति से डाक पार्सल का ट्रक आया और बोलेरो को चपेट में लेलिया। ट्रक की गति इतनी तेज थी कि बोलेरो के चालक को सँभलने तक का मोका तक नहीं मिला सीधी आपने सामने की टक्कर इतनी भयानक हुई कि बोलेरो के साथ सवार सभी लोगों के परखच्चे उड़ गए। बोलेरो पूरी ट्रक के निचे जा घुसी। हादसे के बाद मोके पर कुछ क्षण तो चीख पुकार मच गयी उसके बाद एक एक कर सब की आवाज़े खामोश हो गयी। प्रत्य्क्ष दर्शियों के अनुसार बोलेरो में सवार ११ लोगों की मोके पर ही मौत हो गयी। राहगीरों ने पुलिस को सूचना दी जिसके बाद एक एक कर पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी मोके पर पहुचे। एसीपी विष्णुकात शर्मा व कलेक्टर अचर्ना सिहं मोके पर पहुच कर घटना स्थल का जायजा लिया  बाद मे शर्व को कब्जे मे कर केलवा चिकित्सालय लाया गया 5सुबह 9 बजे पोस्माटम करा कर शर्व को परिजनो को सौप दिया गया।
भयानक था मंज़र :
हाइवे पर हुए रात १ बजे के एक्सीडेंट का मंज़र इतना भयानक था कि पीछे आरहे मुसाफिरों में कई महिलाएं देख के अपनी सुध खो बैठी। बोलेरो से ट्रक की टक्कर के बाद २०० मीटर तक बोलेरों ट्रक के निचे घुसी हुई घसीटती रही और शवों के तुकडे बिखरते रहे। काफी देर तक तो जमा हुए लोगों को समझ में नहीं आया क्या करें। शव इतने बुरी तरह बिखर चुके थे और ट्रक और बोलेरो के बोडी पार्ट्स में फंस चुके थे की निकाले जाने की स्थिति में नहीं थे। पुलिस अधिकारी मौके पर पहुचे तो वहां के हालात देख कर उनकी भी रूह काप उठी। बोलेरो गाडी ट्रक के निचे फसी हुई थी, 6 शव बहार रोड पर बिखरे पडे थे बाद मे केन की सहायता से ट्रक को हटाया तो अन्दर फंसे हुए पांच शव को निकाला। शवों को निकालने में घंटों लग गए।
ये थे मृतकों में :
मृतकों में सभी लोग बोलेरो में सवार थे और एक ही परिवार के लोग थे जिनमे विनोद (२५) पिता नानालाल सरगडा, जवेरी बाई (५०) पत्नि नानालाल सरगडा, निवासी कडीया जिला राजसमन्द। बालुलाल (४० ) पिता सोहन सरगडा, रेखा (३० ) पत्नि बालुलाल सरगडा,पूजा (८)  पुत्री बालुलाल सरगडा, पुष्कर (१०) पुत्र बालुलाल सरगडा, मुन्ना (५) पुत्र बालुलाल सरगडा निवासी बावलास थाना बागोर जिला भीलवाड, सुन्दर बाई ( ६० ) पत्नि रूपलाल सरगडा निवासी सिरोडी थाना केलवा जिला राजसमन्द, मजुं  ( ३२ ) पत्नि गणेष लाल सरगडा निवासी सियाणा राजसमन्द, अजय (५) पुत्र भैरूलाल सरगडा निवासी कडीया थाना केलवाडा जिला राजसमन्द, बन्नु (३) पुत्री गणेष लाल सरगरा निवासी सियाणा जिला राजसमन्द,
1
4 6

LEAVE A REPLY