*हिन्दुस्तान जिंक को मिला ’कमेंडेशन फॉर सिगनिफिकेंट अचीवमेंट’
*वित्त एवं कॉर्पोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर की उपस्थिति में आयोजित वर्चुअल समारोह में यह पुरस्कार प्रदान किया गया

उदयपुर, 24 दिसंबर 2020 भारत की एकमात्र एवं विश्व की अग्रणी जस्ता-सीसा एवं चांदी उत्पादक कंपनी हिन्दुस्तान जिंक को प्रतिष्ठित सीआईआई-आईटीसी कॉर्पोरेट ऐक्सीलेंस सस्टेनेबिलिटी अवार्ड 2020-कमेंडेशन फॉर सिगनिफिकेंट अचीवमेंट से नवाजा गया है। हिन्दुस्तान जिंक को यह पुरस्कार 15वें सीआईआई-आईटीसी सस्टेनेबिलिटी अवार्ड्स के वर्चुअल समारोह में वित्त एवं कॉर्पोरेट मामलों के राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर की उपस्थिति में प्रदान किया गया।

हिन्दुस्तान जिंक सस्टेनेबल भविष्य के लिए नवाचारों में विश्वास करता है तथा निरंतर अपने व्यावसायिक कार्यों में अधिक जिम्मेदारी के साथ नये तरीकों की तलाश करता है। हिन्दुस्तान जिंक ने पवन और सौर ऊर्जा परियोजनाओं की स्थापना करके रिन्युबल एनर्जी परिसम्पत्तियों पर जोर दिया है। कंपनी 275 मेगावाट के पवन ऊर्जा प्रोजेक्ट और 40 मेगावाट के सौर ऊर्जा प्रोजेक्ट को प्रतिष्ठित गोल्ड स्टैंडर्ड के अंतर्गत प्रमाणित किया गया है। कंपनी ने स्टेनेबिलिटी डेवलपमेंट गोल्स 2025 को तय करके स्थिरिता के लिए अपनी प्रतिबद्वता को और पुख्ता किया है।

ज्ञातव्य रहे कि हिन्दुस्तान जिंक ने 2019 में पर्यावरण श्रेणी में सीआईआई-आईटीसी सस्टेनेबिलिटी अवार्ड से सम्मानित किया गया था। सीआईआई-आईटीसी सस्टेनेबिलिटी अवार्ड को देश का सबसे विश्वसनीय सस्टेनेबिलिटी अवार्ड माना जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here