उदयपुर। हिन्दुस्तान जिंक के जिंक स्मेल्टर देबारीको वर्ष 2016-17 में शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए बिडला आडिटोरियम जयपुर में आयोजित राज्य स्तरीय 23वें भामाशाह सम्मान समारोह में पुरस्कृत किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि माननीय मुख्यमंत्री महोदया श्रीमती वसुन्धरा राजे सिंधिया, अध्यक्ष, राज्य शिक्षा मंत्री श्री वासुदेव देवनानी, विशिष्ट अतिथि उच्च शिक्षा एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री श्रीमती किरण माहेश्वरी ने उदयपुर जिले में जिंक स्मेल्टर द्वारा करीब 55 लाख की राशि से शैक्षणिक विकास हेतु सभी भामाशाहों में 26 स्थान हेतु सम्मानित किया। समारोह 109 भामाशाह 31 प्रेरक एवं अन्य गणमान्य अतिथि मौजूद थे। हिन्दुस्तान जिंक के जिंक स्मेल्टर की ओर से यह पुरस्कार सहप्रबंधक बुद्धि प्रकाश ने ग्रहण किया। उल्लेखनीय है कि जिंक स्मेल्टर देबारी द्वारा शिक्षा सम्बल प्रोजेक्ट के तहत् 13 राजकीय माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों में गणित, अंगे्रजी व विज्ञान विषयाध्यपकों की अतिरिक्त व्यवस्था, पुस्तकालय व प्रयोगशाला हेतु फर्निचर एवं सुरक्षा उपकरण, अध्यापको के अध्ययन हेतु पुस्तकें एवं अध्ययन सामग्री राजकीय अध्यापको हेतु कार्यशाला, ग्रीष्मकालीन प्रशिक्षण शिविर, शिक्षा संबंल के अन्तर्गत नियुक्त किये गये अध्यापकों का उन्मुखीकरण प्रशिक्षण, 20 राजकीय प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, माध्यमिक एवं उच्च माध्यमिक विद्यालयों हेतु अतिरिक्त विषयाध्यपको की नियुक्ति, साकरोदा, सिंहाड़ा, बिछड़ी, देबारी, तुलसीदास जी की सराय, गुडली, भेसड़ा खुर्द, भेसडा कला, डबोक, मेड़ता एवं मटून। सिंहड़ा विद्यालय में कक्षा कक्ष का निर्माण कर शैक्षिक उन्नयन हेतु अपना योगदान दिया गया है।

 

 

 

 

LEAVE A REPLY