gun-1428527573
बांसवाड़ा/उदयपुर। ऑनर किलिंग से जुड़े मामले हरियाणा की खाप पंचायतों और यूपी के कुछ इलाकों में ही देखने को मिलते थे, लेकिन कल रात ऑनर किलिंग का मामला बांसवाड़ा में भी अंजाम दिया गया, जिसमें लडक़ी द्वारा अपनी मर्जी से शादी करने को लेकर और खानदान की इज़्ज़त खराब होनी से गुस्साए भाई ने बहन के पति पर गोलियां दाग दीं। घायल युवक को उदयपुर अस्पताल में भर्ती करवाया है। पुलिस ने इस मामले में लडक़ी के पिता और चाचा को हिरासत में ले रखा है, जबकि हमलावर फरार है।

जानकारी के अनुसार बांसवाड़ा में कल शाम को शहर के सबसे व्यस्त माने जाने वाले पीपली चौक में सर्राफा व्यापारी के यहां पर बैठे हुसैनी चौक निवासी 22 वर्षीय साजिद पठान पुत्र फखरू पठान को तीन गोली मारी गई। दो नकाबपोश युवक ने पहले तो साजिद की आंखों में लाल मिर्च डाल दी। इसके बाद फायरिंग शुरू की और एक-एक कर तीन फायर कर दिए। फायरिंग की इस घटना को शहर के लोग ऑनर किलिंग से जोडक़र देख रहे हैं। साजिद के भाई सलमान ने पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि कल शाम 6.45 जब साजिद घर से पीपली चौक स्थित महेंद्र कुमार महेश कुमार ज्वैलरी शॉप पर कांच लगाने के लिए पहुंचा। साजिद बांसवाड़ा में सैक्शन लगाने का काम करता है। साजिद वहां आकर रूका ही था और दुकान मालिक से बात कर रहा था, तभी एक गली से दुपहिया वाहन सवार दो जने आए। इनमें एक ने मुंह पर कपड़ा बांध रखा था। आते ही दोनों युवक साजिद पर टूट पड़े। पहले तो उन्होंने साजिद की शर्ट पकडक़र दुकान से बाहर पटका फिर उसकी आंखों में लाल मिर्ची झोंकी और पिस्तौल से पांच फायर किए। इसमें एक गोली तो साजिद के सीने में लगी, दूसरी कमर पर और तीसरी गोली पेट पर लगी। इससे बुरी तरह लहूलुहान साजिद के साथ युवकों ने मारपीट शुरू कर दी। फिर पास में पड़ा पत्थर उठाकर लाए और उसके सिर पर मारा। इससे साजिद बुरी तरह जख्मी होने के बाद वहीं अचेत हो गया। इस वारदात के बाद मौके पर बड़ी संख्या में क्षेत्रवासी एकत्रित हो गए। इत्तला पर मौके पर पहुंचा साजिद का भाई सल्लू उर्फ सलमान एवं अन्य क्षेत्रवासी उसे चिकित्सालय लेकर आए। यहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद घायल को रैफर किया।
ऑनर किलिंग का मामला : साजिद के भाई सलमान ने पुलिस को बताया कि साजिद को उसके ससुर मुख्तियार पहलवान के कहने पर उसके भांजे अकरम ने गोली मारी है। सलमान ने बताया कि साजिद ने ससुराल वालों की इच्छा के विरुद्ध जाकर यह शादी की थी। शादी के बाद साजिद की पत्नी इरमबानो ने पुलिस के समक्ष पेश होकर सुरक्षा की गुहार लगाई थी। साजिद ने एसपी के नाम परिवाद दिया था। 15 दिसंबर, 2014 को ईरम ने साजिद को फोन किया और शादी के लिए कहा। इसके बाद दोनों रतलाम भाग गए। इसके बाद 17 दिसंबर 2014 को जावरा के शहर काजी के समक्ष शादी की। इसके बाद 18 दिसंबर को मुख्तियार ने कुछ लोगों को भेजा। इन लोगों ने ईरम और साजिद को अलग कर दिया। आरोपियों ने दोनों को जिंदा नहीं छोडऩे की धमकी भी दी। साथ ही परिवाद में यह भी आरोप लगाया था कि मुख्तियार इस मामले में ऑनर किलिंग भी करवा सकते हैं। इसके लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। पुलिस ने कल हुए मामले में मुख्तियार पहलवान और उसके छोटे भाई फरयाज को हिरासत में ले लिया। पूछताछ जारी है। मुख्य हमलावर अभी फरार है। इधर, उदयपुर रेफर हुए अमेरिकन हॉस्पिटल में भर्ती साजिद की हालत चिंताजनक बताई जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here