_DSC0263उदयपुर। दीपावली मेला 2013 के चौथे दिन स्टार नाईट मोली दवे व याशिता यशपाल शर्मा ने अपनी सुरीली आवाज में दर्शकों को देर रात तक बांधे रखा। कार्यक्रमसूरत से आई सूरत में भरतनाट्यम में विशारद हासिल करने वाली उदयपुर के पास वास मादड़ा निवासी नेहल ललित ओरडिय़ा ने भरतनाट्यम की जोरदार प्रस्तुति से सोमवार की शाम का आगाज किया। उसने कन्नड भाषा में रचित पदम कृषनानी में कृष्ण लीलाओं का प्रसंग प्रस्तुति किया। इससे पहले बातचीत में नेहल ने कहा कि वे सात साल से भरतनाट्यम प्रस्तुतियां दे रही है। उनका मानना है कि जीवन के आदर्शों को संजोये रखने में भरतनाट्यम से बड़ी मदद मिलती है। इस शानदार प्रस्तुति के बाद मंच संचालन मुंबई से आए मन ने अपने अंदाज में जनता को गुदगुदाते हुए कार्यक्रम की शुरुआत की। मंच पर सर्वप्रथम इंडियाज गोड टैलेंट व डीआईडी प्रोगाम में रहे अरविंद डांस ग्रुप ने ‘फायर बिग्रेड मंगा दे तु…Ó, ‘में नागिन डांस ए नचना…Ó, ‘मुछों को थोडा राउडेड घुमा के, अन्ना के जैसा चश्मा लगा के…Ó पर डांस पर किया। इस प्रस्तुति के बाद इंडियन आइडल के प्रतिभागी रहे सिंगर अजीत ने गणेश वंदना ‘तेरी जय जय गणेश जी…Ó सुना गणपति बप्पा के जयकारे लगा माहौल भक्तिमय कर दिया। इसके बाद उन्होंने जब ‘केसरिया बालम आओनी पधारो म्हारा देश…Ó सहित अन्य कई गानों की शानदार प्रस्तुति देकर युवाओं को झुमने पर मजबुर कर दिया।

IMG_8112_DSC0137सारेगामापा टू की रनरअप याशिता यशपाल शर्मा ने मंच पर आते ही ‘चिकनी चमेली…Ó का गाना सुना युवाओं को थिरका दिया। इसके बाद उन्होंने एक से एक शानदार गानों की प्रस्तुति दी। उन्होंने ‘तुम ही हो…Ó, ‘सुन रहा है ना तु…Ó, ‘डिंक चिका डिंक चिका…Ó, ‘डिस्को दीवाने…Ó, ‘तेरी दीवानी दीवानी…Ó, ‘दमादम मस्त कलंदर…Ó, ‘पिया तु अब तो आजा…,Ó ‘कजरा मोहब्बत वाला…Ó, ‘तेरा इश्क सुफियाना…Ó, ‘बलम पिचकारी…Ó, ‘कजरारे कजरारे तेरे…Ó, ‘अनार कली डिस्को चली…Ó गानों की प्रस्तुति के साथ साथ जनता की पसंद के गाने भी गाए। मूल रूप से मुंबई की रहने वाली याशिता अब तक पांच से छह फिल्मों में भी प्ले बैक सिंगर के रूप में गा चुकी है व साथ भारत के कई शहरों व विदेशों में स्टेज शो कर चुकी है। मंच पर जब जीटीवी पर प्रसारित सारेगामापा चैलेंज 2007 के टॉप पांच में आई मोली दवे आई, तो सभी ने पूरे जोश से उनका स्वागत किया। मोली ने मंच पर आकर सबसे पहले फिल्म माई नेम इज खान का गाना ‘सजदा तेरा सजदा…Ó, फिल्म मर्डर का ‘भीगे होठ तेरे, प्यास मन मेरा…Ó, नो एंट्री फिल्म का टाईटल सोंग ‘ईश्क दी गली वीथ नो एंट्री…Ó, आशिकी-2 फिल्म का गाना ‘सुन रहा है ना तु…Ó, ‘रिंग रिंग रिंगा…Ó, ‘चोली के पीछे क्या है…Ó आदि प्रस्तुतियां दीं।

कार्यक्रम की शृंखला में रविवार को सेंट मैरिज स्कूल की छात्रा अरूणीमा सुराणा ने भवई नृत्यु की सुंदर प्रस्तुति दी उसकी भी प्रशंसा की गइ। सांस्कृतिक संध्या का आगाज अतिथियों के माल्यार्पण से किया गया। कार्यक्रम में महापौर रजनी डांगी, उपमहापौर महेंद्रसिंह शेखावत, मेला संयोजक हेमलता शर्मा, मेला सह संयोजक दिनेश श्रीमाली, आयुक्त हिम्मतसिंह बारहठ, राजस्व समिति अध्यक्ष दुर्गेश शर्मा, प्रेस समिति संयोजक व मेला प्रवक्ता कृष्णकांत कुमावत, क्षेत्रीय पार्षद पारस सिंघवी सहित आदि ने अतिथयों का माल्यार्पण कर स्वागत किया। îस्वागत रस्म के बाद शीघ्र ही सांस्कृतिक संध्या की शुरूआत कर दी गई।

आज होगा राजस्थानी कार्यक्रम: मेला प्रवक्ता एवं प्रेस समिति के अध्यक्ष कृष्णकांत कुमावत ने बताया कि मंगलवार को शहर की जनता के बेहद मांग पर इस बार सांस्कृतिक संध्या में राजस्थानी कार्यक्रम को विशेष जगह दी गई है। उन्होंने बताया कि राजस्थानी कार्यक्रम से लोग राजस्थान की संस्कृति से रूबरू हो सकेंगे। उन्होंने बताया कि कार्यक्रम में रेखा राव व ग्रुप अपनी प्रस्तुति देंगे।

LEAVE A REPLY