Headlines :-

खबर 1 – डूंगरपुर जिले की चार पंचायत में मतदान पूर्ण

खबर 2 – नगर परिषद ने मतदान दलों को मास्क बांटे,तहसील चौराहे पर आमजन को 2990 मास्क2450 पैम्पलेट वितरित किए

खबर 3 – ऑपरेशन के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो मरीज को छोड़ भागा स्टाफ

खबर 4 – राेडवेज चालक व परिचालकाें काे वेतन के हिसाब से मिलेगा अलाउंस

…………………………………………………………………………………………………………………………

खबर 1 – डूंगरपुर जिले की चार पंचायत में मतदान पूर्ण

Udaipur.  गाँवों की सरकार यानी कि पंचायत चुनाव और अगर ये पंचायत चुनाव वागड़ के हो तो यहाँ का फिर माहोल ही कुछ अलग होता है।  वेसे तो हमेशा से वागड़ में भाजपा और कांग्रेस की आपस में सीधी टक्कर होते ई है और ज्यादातर कांग्रेस को जीत मिलती आई है लेकिन इस बार एसा नहीं है इस बार भाजपा और कांग्रेस के लिए गाँवों की सरकार बनाने की राह इतनी आसान नहीं है।  क्यूँ की अब तीसरा कोण है बीटीपी बीटीपी ने जिस धमाके के साथ पुरे वागड़ में अपनी उपस्थिति दर्ज की है और बीटीपी के नेताओं की लोकप्रियता जिस तरह से युवाओं में ख़ास कर आदिवासी युवाओं में बढ़ी है उससे अब मुकाबला त्रिकोणीय है।  और गाँव की सरकार का आज यानी २३नवम्बर को पहला चरण था। डूंगरपुर जिले की चार पंचायत समितियां डूंगरपुर दोवडा आसपुर और साबला में पहले चरण में चुनाव हुए सेबीसे की टीम ने दिन भर इन पंचायत समितियों का दौरा किया और गाँवों की सरकार और हालात का जायज़ा लिया। जिस तरह का उत्साह विधानसभा और लोकसभा के चुनावों में देखा जाता है वेसा ही जोश और उत्साह पंचायत के चुनावों में भी नज़र आया कई महामारी होने के बावजूद हर एक बूथ पर मतदान खासी संख्या में हुआ।  शाम छह बजे तक कितना प्रतिशत मतदान हुआ यह जानकारी नहीं मिल पायी लेकिन अनुमान लगाया जा रहा है की शाम पांच बजे तक चारों पंचायत समिति में ५०प्रतिशत से ऊपर मतदान के आंकड़े आचुके थे और बूथ में मतदान जारी थे इसलिए अनुमान लगाया जा रहा है कि ५५ प्रतिशत से ऊपर मतदान का प्रतिशत रहेगा। सीबीसी की टीम ने अपने दौरे में पाया की गाँवों के लोग जितना मतदान के प्रति जागरूक है उतने ही कोरोना को लेकर भी जागरूक दिखे हालाँकि कई जगह मास्क लगाये लोग दिखे तो कई जगह बिना मास्क के युवा बूथ के बाहर दिखे।  इधर प्रशासन भी पूरी तरह मुस्तेद दिखा।

 

खबर 2 –  नगर परिषद ने मतदान दलों को मास्क बांटे,तहसील चौराहे पर आमजन को 2990 मास्क2450 पैम्पलेट वितरित किए

Udaipur. राज्य सरकार के कोरोना जन जागरूकता अभियान के तहत रविवार को नगर परिषद द्वारा शहर के कॉलेज ग्राउंड में पंचायत चुनाव मतदान दलों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मास्क और पैम्पलेट वितरित किए। नगरपरिषद आयुक्त नरपतसिंह राजपुरोहित ने बताया कि शहर में टीम परिषद द्वारा जन जागरूकता आंदोलन को सफल बनाते हुए आमजन को कोरोना के प्रति जागरूक कर मास्क वितरित किए जा रहे हैं। रविवार को पंचायत चुनाव संपन्न कराने के लिए रवाना होने वाले मतदान दलों को टीम परिषद ने मास्क वितरित किए।

 

खबर 3 – ऑपरेशन के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो मरीज को छोड़ भागा स्टाफ

Udaipur.  मेडिकल कॉलेज सामान्य अस्पताल में अपेंडिक्स के ऑपरेशन को भती एक मरीज को उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। शुक्रवार को मरीज का ऑपरेशन करने के बाद उसे पोस्ट ऑपरेटिव वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया। शनिवार को रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो मरीज ने डॉक्टर व अन्य स्टॉफ को उसे पॉजिटिव वार्ड में शिफ्ट करने की कहा लेकिन ऐसा नहीं किया गया।मरीज दो दिन तक परेशान होता रहा। रविवार शाम को मरीज स्वयं ही अपनी पत्नी की सहायता से सामान्य अस्पताल में फस्र्ट फ्लोर पर व्यवस्थित पोस्ट ऑपरेटिव वार्ड से पैदल चलकर, पॉजिटिव वार्ड पहुंचा। जबकि मरीज का अपेंडिक्स का ऑपरेशन हुआ था। मरीज दिलीप ने बताया कि वह सासरपुर पाडली निवासी है। शुक्रवार को वह अपेंडिक्स के ऑपरेशन के लिए सामान्य अस्पताल में भर्ती हुआ था।शुक्रवार दोपहर उसका कोविड सैंपल लेने के बाद डॉक्टर ने अपेंडिक्स का ऑपरेशन किया। शनिवार सुबह उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। जब डॉक्टर को इसका पता चला तो उन्होंने वार्डबॉय व अन्य कार्मिकों को उसे पॉजिटिव वार्ड में शिफ्ट करने की कहा गया। शनिवार सुबह से लेकर रविवार शाम तक कोई भी कार्मिक उसे पॉजिटिव वार्ड में शिफ्ट करने नहीं आया।इस दौरान उसकी पत्नी शीला मीणा, जो कि एक नर्सिंग कर्मचारी है, कई बार वार्डबॉय अन्य कार्मिकों से मिली लेकिन किसी ने नहीं सुनी। आखिर में मरीज अपने एक हाथ में मूत्रत्याग की थैली और दूसरे हाथ से लुंगी को पकड़कर खुद ही वार्ड में पहुंचा।

 

खबर 4 –  राेडवेज चालक व परिचालकाें काे वेतन के हिसाब से मिलेगा अलाउंस

Udaipur. राेडवेज के चालक व परिचालकों काे अब वेतन शृंखला के अनुसार नाइट और डे-आउट अलाउंस मिलेगा। अभी तक यह फिक्स था। रोडवेज की दिन में चलने वाली बसों के अपने मुख्यालय से बाहर किसी जगह रात को 6 घंटे या इससे ज्यादा ठहराव पर चालक-परिचालकों को नाइट अलाउंस दिया जाता है। रात में चलने वाली बसों के अपने मुख्यालय से बाहर किसी जगह दिन में 6 घंटे या इससे ज्यादा ठहराव पर उनके चालक-परिचालकों को डे-आउट अलाउंस दिया जाता है। अभी तक रोडवेज की ओर से चालक-परिचालकाें काे राजस्थान में 90 व राजस्थान से बाहर 100 रुपए के हिसाब से नाइट और डे आउट अलाउंस दिया जाता है। रोडवेज मुख्यालय की ओर से जारी आदेशानुसार अब उन्हें नाइट व डे-आउट अलाउंस उनकी वेतन शृंखला के अनुसार 85 रुपए से लेकर 225 रुपए तक मिलेगा।

____________________________________________________________________

Watch Full Video On YouTube – 

Subscribe Our Channel – https://www.youtube.com/channel/UC13eeUsfNS-BfFgLLZzPHJw?view_as=subscriber

Like Our FaceBook Page (Udaipur Post) – https://www.facebook.com/UdaipurPost

                                         (CBC Wire )      –https://www.facebook.com/cbcnewswire

Follow Us On Instagram (Udaipur Post) –https://www.instagram.com/udaipurpost/

                                         (CBC Wire )      – https://www.instagram.com/cbcwire/

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here