पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का संघ के मुख्यालय में भाषण काफ़ी चर्चाओं में है, उनके भाषण को सोशल मीडिया पर तोड़-मरोड़कर पेश किया जा रहा है और बहुत तरह के भ्रम फैल रहे हैं कि उन्होंने क्या कहा, और क्या नहीं कहा. उनकी बातों को हर जगह तोड़ मरोड़ कर पेश किया जारहा है . हर राजनैतिक दल अपने अपने हिसाब से उसका मतलब निकाल रहा है . 

चूँकि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने यह भाषण अंग्रेजी में दिया था ओस्लिये सोशल मीडिया पर यह खेल खेला जारहा है . हम आपको प्रणब मुखर्जी द्वारा पांच जून को संघ मुख्यालय में दिए गए भाषण का झिंदी अनुवाद ज्यों के त्यों सूना रहे है . उनके द्वारा बोली गयी अंग्रेजी का हमने हिंदी अनुवाद किया है आप खुद सुनिए इस विडियो में कि उन्होंने क्या कहा .

 

LEAVE A REPLY