Udaipur Post. कौन बनेगा करोड़पति सीजन 12 में 2 अक्टूबर को कर्मवीर राजीव खंडेलवाल और कृष्णावतार शर्मा हॉट सीट पर अमिताभ बच्चन के सवालों का जवाब देंगे। कर्मवीर स्पेशल एपिसोड के लिए उदयपुर स्थित आजीविका ब्यूरो के संस्थापक सदस्यों को चुना हैं। कर्मवीर स्‍पेशल एपिसोड में ऐसे लोग आते हैं, जिन्‍होंने समाज को अपने कार्यों से दिशा दी हाे। ऐसे लोगों की कहानियां जो दर्शकों को प्रेरित करती हाे। इस बार लॉकडाउन के दौरान मजदूरों, ग्रामीणों आदि की सहायता के लिए सराहनीय कार्य के चलते इन्हें चुना गया।

काैन हैं ये कर्मवीर : दिल्ली निवासी राजीव खंडेलवाल संस्था में एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर और सवाई माधोपुर में वकालत करने के बाद कृष्णावतार शर्मा संस्था में प्रोग्राम डायरेक्टर हैं। आजीविका ब्यूरो की शुरुआत 2004 की थी। राजस्थान, गुजरात सहित राज्यों में पलायन रोकने व प्रभावितों को रोजगार दिलाने पिछले 16 वर्षों से संस्था काम कर रही हंै।

2014 में जनजाति क्षेत्र में पलायन को लेकर किया शोध -संस्था शुरुआत से ही जनजाति क्षेत्रों में चल रहे पलायन को लेकर रिसर्च कर रही हैं। आंकड़े नहीं होने के चलते संस्था ने विशेष कार्यक्रम चलाया। इसके तहत प्रभावितों को रजिस्टर्ड करना शुरू किया। मजदूर, बेरोजगार युवा आदि को पहचान-पत्र दिए। 2014 के दौरान संस्था की तरफ से ‘राजस्थान स्टेट माइग्रेशन प्रोफाइल’ में पलायन को लेकर स्टडी की थी। रिसर्च में सामने आया कि 58 लाख लोगों ने राज्य से बाहर रोजगार की तलाश में पलायन किया। इसमें भारी संख्या में महिलाओं की तादाद भी दर्ज की गई।

लॉकडाउन में प्रभावितों के लिए चलाए स्वास्थ्य केंद्र

जब लॉकडाउन में राज्यों की सीमाएं बंद होने के बीच प्रवासी श्रमिकों के शहरों से पलायन में तेजी आई। प्रशासन के साथ आमजन और सामाजिक संगठनों ने भी एकजुटता दिखाते हुए राहत कार्य किए। इस मुश्किल दौर में उदयपुर स्थित आजीविका ब्यूरो ने प्रभावित लोगों को सीधे राहत पहुंचाने के लिए स्वास्थ्य केंद्र चलाए।

Watch Full Video On YouTube – https://youtu.be/WGan_Z_6kQ4

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here