l_rakhi1-1471511976सेंट्रल जेल में कैदियों को राखी बांधने पहुंची बहनें, गृहमंत्री को विकलांग बच्चियों ने बांधी राखी तो पुलिसकर्मियों को छात्राओं व बच्चियों ने बांधा स्नेह का धागा

उदयपुर,सलाखों के पीछे से भाई ने कलाई आगे की तो बाहर खड़ी बहन की इस दूरी को देख आंखें छलछला गईं। आखिर, ऐसे ही सलाखों के पीछे से भाई ने राखी बंधवाई और बहन को आशीर्वाद दिया।

राखी के मौके पर उदयपुर सेंट्रल जेल में कैदियों को राखी बांधने कई बहनें पहुंची। लेकिन, यहां पहुंच बहनों की आंखें छलक उठीं और भाई की आंखें भी नम हो गर्इं। जेल के अंदर से ही भाई ने हाथ आगे किया और बहन ने हाथ पर राखी बांधी। सुबह से ही जेल में बहनों की कतारें लगी रहीं और एक के बाद एक बहन अपने-अपने भाई को राखी बांधती गईं। साथ ही बहनों ने भाइयों के इस कैद से जल्द रिहा होने की कामना भी की।

गृहमंत्री को विकलांग बच्चियों ने बांधी राखी 

l_rakhi-57b57d57420e9_lइधर, गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने आजाद नगर बस्ती में राक्षबंधन पर्व मनाया। महिलाओं ने राखी बांधी तो गृहमंत्री ने तोहफे में साडिय़ां दीं। विकलांग बच्चियों ने भी गृह मंत्री की कलाई पर राखी बांधी। इस अवसर पर महापौर चंद्रसिंह कोठारी भी उपस्थित रहे।

l_rakhi-57b57d17eab58_lपुलिस लाइन में भी राखी का त्योहार पुलिसकर्मियों ने मनाया। यहां पुलिसकर्मियों को राखी बांधने के लिए कई संगठनों की महिलाएं, बच्च्चियां व कॉलेज छात्राएं पहुंची। इस अवसर पर एसपी राजेंद्रप्रसाद गोयल व कई अन्य पुलिस अधिकारियों के भी कई बच्चियों ने राखी बांधी तो उन्होंने भी बच्चियों को उपहार देकर खुश कर दिया।

 

LEAVE A REPLY