उदयपुर। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से रविवार को होने वाली राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट)-2017 की तैयारियां पूरी कर ली गई है। परीक्षा को लेकर प्रशासन पूरी तरह मुस्तेद है। परीक्षा को लेकर दिशा निर्देश पहले ही जारी कर दिए गए है।  परीक्षार्थी सिर्फ पारदर्शी पेन प्रवेश पात्र और पहचान पात्र ही लेकर परीक्षा कक्ष में प्रवेश कर सकेगें। हर चार केन्द्रों के लिए उड़नदस्ते भी जांच के लिए पूरी तरह तय्यार है।
राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा के लिए उदयपुर शहर में  के 103 परीक्षा केन्द्रों पर 37 हजार सात सौ छ‍ियाासी परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। दो स्तरों में होने वाली परीक्षा में स्तर द्वितीय (कक्षा 6 से 8) की परीक्षा प्रथम पारी सुबह 10.00 से 12.30 बजे तक तथा स्तर प्रथम (कक्षा 1 से 5) की परीक्षा द्वितीय पारी दोपहर 2.30 बजे से 5.00 बजे तक होगी। परीक्षा प्रारम्भ होने के पश्चात अर्थात प्रथम पारी में प्रात: 10.00 बजे तथा द्वितीय पारी में अपराह्न 2.30 बजे पश्चात परीक्षा केन्द्रों में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। द्वितीय स्तर में 31332 और प्रथम स्तर में 6454 परीक्षार्थी शामिल होंगे। जिला परीक्षा संचालन समिति की ओर से हर चार परीक्षा केन्द्र पर एक उडनदस्ता तैनात किया गया है। इसके अतिरिक्त बोर्ड स्तर पर प्रत्येक जिले में बनाये गये विशेष उडऩदस्ते भी जिला स्तर पर परीक्षा केन्द्रों की सघन जांच करेंगे। इसके अतिरिक्त परीक्षा केन्द्रों पर सी.सी.टी.वी. कैमरे भी लगाए गए हैं जिनका नियंत्रण जिला प्रशासन से साथ-साथ बोर्ड के केन्द्रीय कार्यालय में भी होगा।
इसके अलावा प्रत्येक परीक्षा कक्ष की वीडियोग्राफी होगी। प्रत्येक विद्यार्थी को पारदर्शी पेन लेकर ही जाना होगा, यदि कोई अन्य पेन लेकर पहुंचेंगे तो इसे बाहर रखवा लिया जाएगा। एडीएम सीआर देवासी ने बताया कि सभी पर्यवेक्षक व केन्द्राधीक्षक को निर्देश दिए गए हैं कि कोई भी व्यक्ति मोबाइल से वीडियोग्राफी नहीं करेगा। प्रत्येक विद्यार्थी को अपने प्रवेश पत्र के अतिरिक्त एक जरूरी पहचान पत्र लाना होगा। जिसके पास पहचान पत्र नहीं होगा उसे परीक्षा में प्रवेश नहीं मिलेगा। परीक्षार्थी प्रश्नों से संबंधित शिकायत के बारे में परीक्षा कक्ष में वीक्षक से कुछ भी न पूछ सकेगा। यदि किसी प्रश्न के बारे में कोई भी शिकायत हो तो परीक्षा समाप्ति के बाद केन्द्राधीक्षक के माध्यम से समन्वयक को लिखित प्रतिवेदन देना होगा।

LEAVE A REPLY