पोस्ट न्यूज़ . अपने जमाने के रोमांटिक और मशहूर अभिनेता कपूर फेमली के एक स्तम्भ शशि कपूर इस दुनिया में नहीं रहे . शशि कपूर 79 साल के थे पिछले काफी लम्बे समय से बीमार चल रहे थे और मुंबई  कोकिलाबेन अस्पताल में भारती थे .

दादा फाल्के पुरूस्कार से सम्मानित अभिनेता शशि कपूर अपने जमाने के खासे फेमस अभिनेता रह चुके है उन्होंने बीसियों हिट फिल्मों में काम किया था . प्रथ्वी राजकपूर के बेटे राजकपूर और शम्मी कपूर के भाई शशि कपूर ने 18 मार्च 1938 को पृथ्वी राज कपूर के घर में जन्मे शशि कपूर ने बतौर बाल कलाकार काम शुरू किया था. 1961 में वह फ़िल्म ‘धर्म पुत्र’ से बतौर हीरो बड़े पर्दे पर आए थे. फ़िल्म ‘चोरी मेरा काम’, ‘फांसी’, ‘शंकर दादा’, ‘दीवार’, ‘त्रिशूल’, ‘मुकद्दर’, ‘पाखंडी’, ‘कभी-कभी’ और ‘जब जब फूल खिले’ जैसी करीब 116 फिल्मों में अभिनय किया था. जिसमें 61 फिल्मों में शशि कपूर बतौर हीरो पर्दे पर आए और करीब 55 मल्टीस्टारर फिल्मों के हिस्सा बने थे.

अमिताभ बच्चन के साथ इनकी जोड़ी खूब सराही गई थी. फ़िल्म इंडस्ट्री में शशि कपूर को कई पुरस्कार मिले. 2011 में भारत सरकार की तरफ से उन्हें पद्मभूषण से भी नवाजा गया था. शशि कपूर हिन्दी फ़िल्मों में लोकप्रिय कपूर परिवार के सदस्य थे. साल 2015 में उनको 2014 के दादासाहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया था.

LEAVE A REPLY