ई-मेल की जांच के लिए राजस्थान पुलिस ले रही है गूगल और इंटरपोल की मदद

download (1)उदयपुर। गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया सहित दस केबिनेट और छह राज्य सेवकों को सरकारी ई-मेल आईडी पर इंडियन मुजाहिदीन ने २६ जनवरी को हमले की धमकी दी है। लियोनाजर्दा नाम के आईएम आतंकी के अकाउंट से भेजे गए इस ई-मेल में कहा गया है कि २६ जनवरी को धमाके करेंगे, रोक सको तो रोक लो। यह ई-मेल २२ दिसंबर की शाम ५.५४ को मिले हैं। पुलिस विभाग इन ई-मेल की विश्वसनीयता की जांच कर रहा है।
राज्य के पुलिस के आला अधिकारियों के अनुसार इस मामले को गंभीरता से लिया जा रहा है। यह ई-मेल जीमेल से आया है। इसकी जांच के लिए इंटरपोल से मदद मांगी है। गूगल से भी सहयोग लिया जा रहा है। इस संबंध में पुलिस मुख्यालय द्वारा सभी रेंज आईजी को निर्देश दिए गए हैं कि इस मामले में पूरी गंभीरता बरती जाए। साथ ही पुलिस एकदम सड़कों पर नहीं उतरे, बल्कि गोपनीय तरीके से सतर्कता बढ़ाई जाए, जिससे भय का माहौल पैदा न हो।
उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों आतंकी संगठनों की तरफ से राज्य के पर्यटन स्थलों को टारगेट पर लेने की धमकी दी गई थी। उस दौरान यह भी सामने आया था कि आतंकवादी उदयपुर में पर्यटन स्थलों की रैकी करके गए थे। इसके बाद एनएसजी (नेशनल सिक्योरिटी गार्ड) ने होटल लेकपैलेस, उदयविलास, सिटी पैलेस, यूनिवरसिटी, डबोक एयरपोर्ट सहित अन्य स्थानों पर गोपनीय तरीके से मॉक ड्रील की गई थी।
सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट : आईएम के धमकी भरे ई-मेल मिलने के बाद आईबी, एसओजी और एटीएस को राज्य में सतर्क कर दिया गया है। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। तलाशी अभियान भी चलाए जा रहे हैं और हर संदिग्ध गतिविधि पर नजर रखी जा रही है।

आतंकियों द्वारा धमकी भरे ई-मेल भेजकर हमले की चेतावनी देने की जानकारी मिली है। हालांकि उक्त ई-मेल अभी मैंने नहीं देखा है। इस मामले में डीजीपी को निर्देश दिए गए हैं। डीजी के स्तर पर ही इस मामले को देखा जा रहा है। इस मामले को लेकर राज्य पुलिस पूरी तरह से गंभीर है।
-गुलाबचंद कटारिया, गृह मंत्री, राजस्थान
इस संबंध में मुख्यालय से मिले निर्देशों के अनुसार सतर्कता बरती जा रही है। सभी जगह सुरक्षा के बंदोबस्त किए गए हैं। हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है। २६ जनवरी को लेकर भी विशेष सुरक्षा बंदोबस्त किए जाएंगे।
-आनंद श्रीवास्तव, आईजी, उदयपुर रेंज

LEAVE A REPLY