Udaipur Post News-संवेदनाएं तो मानो जैसे आजके इंसान में बची ही नहीं ना तो किसी इंसान की जान की कोई कीमत रह गयी है ना ही उसके जिस्म के कटे हुए अंग की कीमत। धरती के भगवान् कहे जाने वाले डॉक्टर तो इस मामले में दो कदम हमेशा आगे रहते है। दुर्घटना में घायल मरीज अस्पताल में इलाज कराने आया तो डॉक्टर ने इंसानियत को शर्मसार करने वाला कृत्य कर दिया घायल का कटा हुआ पैर ही उसके सिराहने तकिये की जगह रख दिया। डॉक्टरों की इस हरकत को जिस किसी ने देखा खुद के इंसान होने पर ही उसको शक होने लगा।
मामला है यूपी में झांसी शहर महारानी लक्ष्मी बाई मेडिकल कॉलेज का जहाँ इमरजेंसी वार्ड में इलाज के लिए व्यक्ति के सिर के नीचे उसके कटे पैर का तकिया बनाकर रख दिया। डॉक्टर की इस हरकत ने हॉस्पिटल में मौजूद लोगों को हैरत में डाल दिया। जिसके तुरंत बाद उन्होंने घटना की जानकारी सीएमएस को दी।
शनिवार सुबह मऊरानीपुर इलाके के बम्हौरी और खिलारा के बीच स्कूल के बच्चों से भरी बस पलट गई। इस हादसे में छह बच्चे दबकर घायल हो गए। इस ही हादसे में बस के क्लीनर लहचूरा थाना इलाके के गांव इटायल के रहने वाले घनश्याम का बायां पैर घुटने के नीचे से कटकर अलग हो गया।
घायल बच्चों का इलाज तो मऊरानीपुर के हेल्थ सेंटर में कर दिया गया गया, जबकि घनश्याम को मेडिकल कॉलेज रेफर कर दिया गया। परिवार के लोग जब पीड़ित को लेकर मेडिकल कॉलेज पहुंचे तो डॉक्टरों ने उसके कटे हुए पैर को उसके सिर के नीचे तकिया की जगह लगा दिया।
– इसके तुरंत बाद वहां मौजूद लोगों ने नाराजगी जताते हुए हॉस्पिटल के सीएमएम को फोन करके सूचना दी।
– घटना की जानकारी मिलते ही मेडिकल कॉलेज के सीएमएस डॉ. हरीशचंद्र आर्य मौके पर पहुंचे। उन्होंने तुरंत इमरजेंसी में मौजूद डॉक्टरों को फटकार लगाई। इसके बाद मरीज के सिर के नीचे से कटा हुआ पैर हटवाकर तकिया लगवाया।

सरकार ने दिखाई गंभीरता…
– यूपी सरकार ने महारानी लक्ष्मीबाई मेडिकल कॉलेज झांसी में मरीज का पैर काटकर उसके सिर के नीचे रखने के मामले को गंभीरता से लिया है।
– मंत्री से लेकर मुख्य सचिव तक ने संवेदनशीलता दिखाते हुए शुरआती जांच में दोषी पाए गए डॉक्टरों और स्टाफ के खिलाफ कार्रवाई करने के आदेश दिए।
– चिकित्सा शिक्षा मंत्री के निर्देश पर दो डॉक्टर और दो नर्स को सस्पेंड कर दिया गया है। जबकि डॉक्टर ऑन कॉल को चार्जशीट दी गई है।
– शासन ने इस मामले में जांच बैठा दी है और मेडिकल कालेज की प्रधानाचार्य से पूरे मामले पर रिपोर्ट तलब की गई है।

LEAVE A REPLY