उदयपुर। मौसम ने एक बार फिर अपना असर दिखाया है और राजस्थान ठंडी हवाओं की चपेट में आया है। आसमान में बादलों का डेरा है और फ़िज़ां को ठंडी हवाओं ने घेरा है। इन्ही ठंडी हवाओं के चलते जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है।
जम्मू—कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में सक्रिय हुए पश्चिमी विक्षोभ के असर से प्रदेश पर भी पड़ा है और प्रदेश में ठंडी हवाएं चल रही है। राजधानी जयपुर में बीती रात 26 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से ठंडी हवाएं चली और सुबह से ही 5 किलोमीटर की रफ़्तार से हवाएं चलने का दौर जारी है। जिससे जयपुर के वाशिदों को हाडकंपाती सर्दी का अहसास हुआ।
यही हाल राजस्थान के अन्य शहरों उदयपुर जोधपुर सहित कई शहरों में ठंडी हवाओं का प्रकोप आज सुबह से ही बना हुआ है।
मौसम विभाग का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ आज शाम तक प्रदेश से निकल जाएगा। मौसम विभाग के अनुसार जम्मू और कश्मीर और हिमाचाल में पश्चिमी विक्षोभ के असर से बर्फबारी हो रही है और और विक्षोभ पूर्वी राजस्थान से गुजर रहा है। जिससे पूरे प्रदेश में ठंडी उत्तरी हवाएं चल रही हैं।
झीलों की नगरी उदयपुर में आज की सुबह पूरी तरह से सर्दी में लिपटी नजर आई। सुबह सडकों पर कोहरा दिखा और लोग ठंडी हवाओं से सिकुडते नजर आए। हालांकि धुप ने थोड़ी राहत दी लेकिन हवाओं ने गलन का अहसास भी कराया।
यही नहीं अगर राजस्थान के अन्य हिस्सों की बात करें तो राजस्थान की राजधानी में भी सर्द ठंडी हवाओं का खासा असर रहा वहीँ उतरी भारत में लगातार हो रहे पश्चीमि विक्षोभ के चलते सरहदी जिले व धरो की धरा पोकरण में सर्दी के तेवर तेज हो गए है। अलसुबह से आसमान में हल्का कोहरा व सर्द हवाओं के चलते धूजणी छुड़ा दी है जिससे लोगो की दिन चर्या में बदलाव के साथ ही आम जन को घरों में दुबकने को मजबूर होना पड़ रहा है। रविवार को तेज सर्द हवाओं का दौर जारी रहा। तापमान में लगातार दो दिनों से आई गिरावट ने आम जन का जीवन अस्त व्यस्त कर दिया।
जोधपुर जिले में भी सर्दी का प्रकोप रहा। लोहावट कस्बे सहित आस-पास के क्षेत्र में एक बार सर्दी के तेवर फिर से तीखे हो गए है। सर्दी से जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। लोहावट कस्बे में शनिवार रात से ही तेज सर्द हवाएं का दोर शुरू हुआ। जो कि रविवार सुबह भी जारी रहा। सुबह से ही क्षेत्र में हल्का कोहरा भी छाया नजर आया। सर्दी से बचाव के लिए लोग जगह-जगह अलाव तापते नजर आ रहे है।
सीकर के पलसाना क्षेत्र में रविवार सुबह बादलवाही और ठंड के चलते जनजीवन खासा प्रभावित रहा। ठंड ठंड के चलते लोग देर तक घरों में दुबके रहे और बाजारों और सड़कों पर सन्नाटा सा पसरा हुआ है। देर रात शुरू हुई ठंडी हवाओं ने जनजीवन को खासा प्रभावित कर दिया है वही आसमान में बादल छाए रहने से ठिठुरन भी बढ़ गई और लोग गर्म कपड़ों में लिपटे नजर आ रहे हैं। साथ ही ठंड से बचने के लिए लोग अलाव का सहारा लेकर ठंड से बचने की जुगत करते नजर आ रहे हैं।

LEAVE A REPLY