12ch02
चित्तौडग़ढ़। दुर्ग स्थित फतहप्रकाश महल प्रांगण के पास बने भीमकोड़ी कुंड में कूदकर बुधवार दोपहर एक युवती ने आत्महत्या कर ली। आत्महत्या के कारण स्पष्ट नहीं हो पाए।
दुर्ग पर रहने वाली हंसा (18) पुत्री रतनलाल तेली बुधवार दोपहर करीब 12.45 बजे फतहप्रकाश महल प्रांगण के पास बने भीमकोड़ी कुंड की ओर बदहवास अवस्था में पहुंची और कुंड में कूद गई। यह नजारा देख रही एक महिला ने हंसा को आवाज भी दी, मगर तब तक देर हो चुकी थी। कुछ ही देर में इसका पता चलने पर बड़ी संख्या में लोग कुंड पर इक_ा हो गए। शहर कोतवाल ज्ञानेंद्रसिंह राठौड़, एएसआई शिवसिंह मय जाब्ता मौके पर पहुंचे। पूर्व पार्षद बालमुकुंद मालीवाल भी पहुंचे। दुर्ग पर रहने वाले फोटोग्राफर, गाइड व अन्य युवकों ने कुंड में युवती की तलाशी की कवायद शुरू की। नगर परिषद के गोताखोरों को भी बुलाया गया। इस बीच, दुर्ग निवासी मनोहर वैष्णव, अखिलेश, भूपेंद्र आदि तैरकर व बलाई की सहायता से कुंड में ढूंढने लगे। पवननाथ व मनोहरनाथ भी पानी में कूदे। करीब 10 मिनट की मशक्कत के बाद दो बजे युवती के बाल बलाई में आ गए। इसके बाद पवननाथ व मनोहरनाथ समेत अन्य युवकों ने युवती के शव को बाहर निकाल लिया। डीएसपी कानसिंह भाटी ने भी मौका-मुआयना किया। शव को श्री सांवलियाजी सामान्य अस्पताल ले जाकर पोस्टमार्टम कराया गया। युवती की आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है। युवती के मामा कैलाश तेली ने बताया कि हंसा की शादी गत वर्ष छोटीसादड़ी हुई थी। करीब महीने भर पहले ही वह ससुराल से पीहर आई थी। युवती के पिता रतनलाल कुंभानगर में एक फर्म पर काम करते हैं।

LEAVE A REPLY