देश केप्रतिभावान विद्यार्थियों को शैक्षिक ज्ञान के साथ-साथ राज्य एवं देश के परिवेश भौगोलिक एवं प्राकृतिक स्थिति, ऐतिहासिक स्थल एवं सांस्कृतिक स्थलों की व्यावहारिक जानकारी उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से राज्य सरकार प्रतिभावान विद्यार्थियों को दस दिन की यात्रा करवाएगी। माध्यमिक शिक्षा निदेशालय बीकानेर के निर्देशानुसार 28 दिसम्बर से 6 जनवरी तक यह दस दिवसीय अन्तर राज्य शैक्षिक एवं सांस्कृतिक यात्रा आयोजित होगी। संयुक्त निदेशक भरत मेहता ने बताया कि ऐतिहासिक-सांस्कृतिक- प्राकृतिक धरोहरों से विद्यार्थियों को परिचित कराने के अलावा स्थापत्य कला की जानकारी,विद्यार्थियों को सामुदायिक जीवन से जोडऩे का मकसद है।

संयुक्त निदेशक ने बताया कि यात्रा करने वाले विद्यार्थियों को आवेदन करने के लिए गत कक्षा में न्यूनतम 70 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य रखा गया है। मनोनीत प्रमुख यात्रा प्रभारी, उप जिला शिक्षा अधिकारी विजय सारस्वत के नेतृत्व में 66 विद्यार्थियों, 9 मंडल दल प्रभारियों व बीकानेर से 2 निदेशक प्रतिनिधि के सानिध्य में यात्रा दल उदयपुर से अम्बाजी. अहमदाबाद. सूरत . सापुतारा . नासिक . शिरडी. औरंगाबाद . अजंता एलोरा. त्रयम्बकेश्वर . वापी समुद्र तट होते हुए रास्ते के अन्य दर्शनीय स्थलों की यात्रा करते हुए उदयपुर वापसी करेंगें। यात्रा का खर्च सरकार वहन करेगी।

LEAVE A REPLY