2016_7largeimg203_jul_2016_061056800उदयपुर.

हिरणमगरी इलाके के मंदिरों में हुई चोरी की वारदात का राजफाश करते हुए पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एसपी राजेन्द्र प्रसाद गोयल ने बताया कि 25 अक्टूबर को हिरणमगरी थाना क्षेत्र के सवीना इलाके में एक जैन मंदिर और एक अम्बामाता के मंदिर में चोरी हुई थी।

जैन मंदिर से चोर पांच सौ साल पुरानी 7 अष्ठधातु की मूर्तियों सहित डेढ़ किलो चांदी का छत्र और नकदी चुराई गई थी। इस मामले में पुलिस ने गहनता से तफ्तीश की तो सराड़ा इलाके के दो बदमाशों पर शक की सुई पहुंची। पुलिस ने करणमीणा और प्रेम लाल मीणा से पूताछ की तो उन्होंने अपना गुनाह कबूल कर लिया।

पुलिस द्वारा कडाई से पूछताछ पर आरोपियों ने चुराई गई मूर्तियों के बारे में भी जानकारी दे दी। पुलिस ने आरोपियों से बेशकीमती 4 जैन मूर्तियों को बरामद कर लिया है जबकि शेष 3 मूर्तियों की बरामदगी के लिए एक टीम गुजरात भेजी गई है। पुलिस द्वारा आरोपियों से पूछताछ जारी है। वहीं, बताया जा रहा है कि गिरफ्तार आरोपी पहले भी चोरी की वारदातों में लिप्त रह चुके हैं। पकड़े गए आरोपी शातिर नकबजन हैं। यह चोरी, मारपीट और कुए की मोटरें पार करने के मामलों में भी पूर्व में गिरफ्तार हुए हैं। दोनों के खिलाफ  एक दर्जन मुकदमे दर्ज हैं।

LEAVE A REPLY