डूंगरपुर जिले के धम्बोला थाना क्षेत्र में करीब ढाई माह पहले सीथल गांव के पास झाड़ियों में मृत मिली नवजात बालिका के मामले का खुलासा पुलिस ने कर दिया है।
पोस्ट न्यूज़ . करीब ढाई माह पहले  डूंगरपुर जिले के सीथल गांव के पास झाड़ियों में मृत मिली नवजात बालिका के मामले का खुलासा पुलिस ने कर दिया है। अवैध संबंध के चलते एक मां ने अपनी कोख से जन्मी बेटी को मरने के लिए झाड़ियों में फैंक दिया था। पुलिस इस मामले में मंगलवार को आरोपित मां डोल कुंजेला बेडसा निवासी विमला (23) पुत्री कालूराम खांट को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया। यहां से इसे
नारी निकेतन भेजा है। आरोपित प्रेमी फरार है, उसकी तलाश जारी है।
अवैध प्रेम का परिणाम। पुलिस ने पूछताछ में बताया कि दो वर्ष पूर्व विमला की शादी हुई थी। पति ने पत्नी को छोड़ दिया था। इसके बाद इसके अन्य युवक से प्रेम प्रसंग चल पड़ा। इसके चलते वह गर्भवती हो गई और मोडासा चिकित्सालय में छह जनवरी 18 को स्वस्थ बालिका को जन्म दिया। दो दिन बाद यहां आने पर आठ जनवरी को सुबह सीथल के निकट नाले की झाड़ियों में बच्ची को जिंदा छोड़ दनेा कबूला। पुलिस ने भारतीय दंड सहिता धारा 317, 304 में गिरफ्तार किया। आरोपित प्रेमी की पुलिस तलाश कर रही है।

नवजात के कपड़े से हुआ खुलासा। जांच अधिकारी दिलीप सिंह शक्तावत ने बताया कि आठ जनवरी की शाम को सीथल के निकट नाले की झाड़ियों में नवजात बालिका का शव मिला था। इस पर पुलिस वहां पहुंची और चिकित्सालय रिकार्ड जांच के दौरान विमला खांट की दो दिन पहले ही पुत्री होने की पुष्टि हुई। इस जानकारी के आधार पर पुलिस विमला तक पहुंची।

LEAVE A REPLY