उदयपुर प्रतापनगरचौराहे पर शनिवार देर रात चित्तौड़ रोड से सिटी की तरफ रही कार थाने के करीब डिवाइडर से टकराते हुए उसके ऊपर चढ़ गई। टक्कर इतनी तेज थी कि कार का इंजन अलग होकर 25 फिट दूर जा गिरा जिससे वहां सो रहे दो मजदूर घायल हो गए। वहीं कार में सवार तीन व्यक्ति भी घायल हुए। टक्कर के बाद जोरदार धमाके की आवाज से क्षेत्रवासी सहम गए। सबको लगा कि कुछ विस्फोट हुआ है। पुलिस ने बताया कि रात को चित्तौड़ की ओर से आई20 कार रही थी जिसमें 3 व्यक्ति सवार थे। आस-पास के लोगों ने बताया कि कार की गति काफी तेज थी। पुलिस का कहना है कि इतने हादसे हुए लेकिन किसी में गाड़ी का इंजन बाहर नहीं आया लेकिन इस हादसे में इंजन बाहर आना दर्शा रहा है कि कार की स्पीड 150 से पार रही होगी। गाड़ी का नंबर यूपी 33 एएम 1888 है। डिवाइडर पर चढ़ते ही इंजन हवा में उड़कर फुटपाथ पर सो रहे मजदूरों के पास जाकर गिरा। पुलिस ने तीन कार सवारों और घायल दो मजदूरों को एमबी हॉस्पिटल भेजा लेकिन वे वहां से निजी हास्पिटल में चले गए।
रात में रोड खाली होने के कारण अक्सर गाड़ियां काफी तेज गति से चलती हैं। इस कारण आए दिन हादसे होते रहते हैं।

बाहर निकल कर गिरा इंजन

तीन दिन पहले भी तेज गति में रही वीडियोकोच बस ने भट्टा चौराहे पर बाइक सवार चार युवकों को चपेट में ले लिया था जिससे तीन की मौत हो गई थी। दीपावली की रात भी डूंगरपुर के 8 दोस्तों से भरी कार देर रात काफी तेज गति में चलते हुए अनियंत्रित होकर ट्रक से टकरा गई थी। जिसमें चार लोग की मौके पर ही मौत हो गई थी। शनिवार रात की दुर्घटना में भी बड़ा हादसा टल गया। पास में ही सो रहे मजदूरों के ठीक सामने ही इंजन गिरा जिससे वह बाल-बाल बच गए।

LEAVE A REPLY