उदयपुर। मटून के पूर्व सरपंच औनार सिंह देवड़ा का समर्थन करने वालों की सूचि लगातार बढ़ती ही जा रही है। वही भारतीय जनता पार्टी के शहर अध्यक्ष दिनेष भट्ट के निर्णय की आलोचना भी चैतरफा हो रही है। इसी कड़ी के करणी सेना के मुखियाओं ने भी श्री भट्ट से मुलाकात की और अपने निर्णय पर पुनर्विचार करने का अनुरोध भी किया। वहीं दूसरी तरफ श्री औनार सिंह देवडा ने प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी को पत्र लिखकर भट्ट द्वारा कि कई कार्रवाई को रोकने की अपील की है। इसके साथ ही श्री देवड़ा ने पत्र में भी स्पश्ट किया है कि जिसका हवाला देकर उन्हें निश्कासित किया गया है। उसमें उनका दूर – दूर तक कोई लेना – देना नहीं है। गौरतलब है कि उप चुनाव के दौरान पार्टी का प्रत्याषी हार गया था और उसका ठीकरा जिलाध्यक्ष ने पूर्व सरपंच देवड़ा पर फोड़ते हुए पार्टी से निश्कासित कर दिया। जबकि क्षेत्र के दिग्गज पार्टी पदाधिकारियों और वहां के रहवासियों की माने तो हार का मुख्य कारण झामेष्वर मण्डल के अध्यक्ष रहे, जिनकी वजह से ही खरबड़िया क्षेत्र से पार्टी को सबसे कम वोट मिले। औनार सिंह देवड़ा ने पत्र की प्रतिलिपि मुख्यसेवक वसुन्धरा राजे सिंधिया, प्रदेष के संगठन मंत्री चंद्रषेखर, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष षान्तिलाल चपलोत, सहित कई वरिश्ठों को भी भेजी है।

LEAVE A REPLY