उदयपुर। गुजरात दंगों के अभियुक्त अब कोटड़ा में नफरत की आग फैला रहे है। गुजरात दंगो के सजायाफ्ता साम्प्रदायिक माहौल बिगाड़ कर गोधरा काण्ड दोहराने की बात कर रहे है। इसमें साथ दे रहे है झाडोल के भाजपा विधायक बाबूलाल खराड़ी। कोटडा मुस्लिम कमिटी व् अंजुमन कमिटी ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन देकर माहोल खराब करने वालों के खिलाफ कारवाई की मांग की है।
कोटडा में अल्पसंख्यक समुदाय के युवक द्वारा अन्य समाज की युवतीका कथित अपहरण करने के विरोध में 28 जनवरी को कोटडा में बंद का आव्हान किया गया था और रैली निकाली गयी थी। रैली में भाग लेने के लिए गुजरात के साबरकांठा जिले से होमा भाई और उसके कुछ साथी जो गुजरात दंगों के सज़ायाफ्ता अभियुक्त रहे वह भी शामिल हुए, गुजरात दंगों के इन सजायाफ्ता अभियुक्तों ने भाजपा विधायक बाइ बूलाल खराड़ी की मोजुदगी में कोटडा में भड़काऊ भाषण दिए और खुले तौर पर कहा कि गोधरा काण्ड एक बार फिर दोहराना पडेगा शायद ये लोग भूल गए है।
मुस्लिम कमिटी कोटडा और उदयपुर के अंजुमन तालीमुल इस्लाम कमिटी ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन भी दिया है जिसमे कोटडा में सांप्रदायिक माहोल खराब करने वालों के खिलाफ कारवाई करने की मांग की है। कोटडा मुस्लिम कमिटी के पदाधिकारियों ने बताया कि जिस युवक ने अन्य समाज की युवती से शादी की थी और जिस पर अपहरण का आरोप लगाया था उसने खुद पुलिस में आत्मसमर्पण कर दिया है। युवती और युवक दोनों पुलिस कस्टडी में होने के बावजूद कोटडा में सोहार्द पूर्ण माहोल को कुछ असमाजिक तत्वों द्वारा अपने निजी फायदे के लिए बिगाड़ा जा रहा है। ताज्जुब की बात तो यह है कि इस तरफ के माहोल खराब करने में विधायक जो की एक जन प्रतिनिधि होता है वह खुद शामिल है उसकी मौजूदगी में यह काम किया जा रहा है। हालाकिं प्रशासन वहां मुस्तेद है लेकिन भड़काऊ भाषण देने वालों के खिलाफ अभी तक कोई कारवाई नहीं की गयी है।

LEAVE A REPLY