01उदयपुर ,पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न लालबहादुर शास्त्री की 48वीं पुण्यतिथि पर देहात जिला कांग्रेस कार्यालय पर पुष्पांजलि एवं विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया।
देहात प्रवक्ता हेमन्त श्रीमाली ने बताया कि जिला कांग्रेस पदाधिकारियों ने मुख्यालय प्रभारी सचिव देवेन्द्रसिंह शक्तावत की अगुवाई में कृतज्ञ कांग्रेसजनो ने स्व. शास्त्री की तस्वीर पर पुष्पांजलि अर्पित कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी। बाद में कार्यालय पर विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। विचार गोष्ठी की अध्यक्षता वरिष्ठ नेता किशन त्रिवेदी ने की। मुख्य वक्ता के रूप में पूर्व विधायक त्रिलोक पूर्बिया, जगन्नाथ शर्मा मौजूद थें। वक्ताओं ने स्व. शास्त्री के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि स्व. शास्त्री ने अपनी सादगी, मितव्ययता तथा सादा जीवन उच्च विचार का संदेश अपने प्रधानमंत्रीकाल में ही देश की जनता के सामने रख दिया था। वक्ताओं ने आज के परिप्रेक्ष्य में भ्रष्टाचार एवं दिखावी सादगी पर प्रहार करते हुए कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने 1964 में ही देश से भ्रष्टाचार को हटाते हुए पाकिस्तान एवं चीन से युद्ध जीत कर अपनी क्षमतायें बता दी थी। उन्होंने शास्त्रीजी के जय जवान-जय किसान के नारे एवं देश में खाद्यान्न संकट पर एक दिन का उपवास रखने की दूरदर्शिता से शास्त्रीजी का जीवन आम आदमी के जीवन जैसा था। उन्होने प्रधानमंत्री बनने के बाद भी अपना सादा जीवन नहीं छोडा।
विचार गोष्ठी में ब्लॉक अध्यक्ष भगवतसिंह झाला, कोषाध्यक्ष चुन्नीलाल सांखला, पूर्व विधायक त्रिलोक पूर्बिया, किशन त्रिवेदी, जगन्नाथ शर्मा, अजीज खान पठान ने विचार व्यक्त किये।
पुष्पांजलि एवं विचार गोष्ठी कार्यक्रम में प्रवक्ता हेमन्त श्रीमाली, महामंत्री दिलीप प्रभाकर, फल सब्जी मण्डी चेयरमेन मोडसिंह सिसोदिया, सचिव कमलसिंह चौधरी, धर्मसिंह सुहालका, शांता प्रिन्स, मदनसिंह बाबरवाल, ओमप्रकाश गमेती, महेश त्रिपाठी, भूरालाल भगोरा, ओमप्रकाश मेघवाल सहित कई कार्यकर्ता मौजूद थे।

LEAVE A REPLY