RPJHONL023210820143Z40Z19 PMदिल्ली पुलिस की भ्रष्टाचार निरोधी शाखा ने एक युवक को पोर्न क्लिप भेजने के आरोप में गिरफ्तार किया है। उसने वाट्सएप के जरिए वह पोर्न क्लिप भ्रष्टाचार निरोधी हेल्पलाइन नंबर पर भेजा था।

यह घटना मंगलवार की है। उस युवक ने जब वह क्लिप भेजी तो वह नशे में था।

सूत्रों के अनुसार, प्रोटोकॉल के तहत एक अधिकारी हेल्पलाइन पर आने वाले सभी संदेशों के बारे में एक रिपोर्ट तैयार करता है। उसके बाद वह सभी संदेशों के ऑडियो और वीडियो क्लिप फॉरेंसिक लैब को भेजता है, जहां पर उसकी प्रमाणिकता सत्यापित की जाती है। उनके सत्यापन के बाद ही कोई कार्रवाई होती है।

इस मामले में जब लैब मे जांच हुई तो पता चला कि वह क्लिप एक पॉर्न फिल्म का हिस्सा है, इस बात से वहां मौजूद सभी लोग चौंक गए। इस पर मंगलवार रात को सूचना तकनीक कानून के तहत बाराखंभा रोड थाने में मामला दर्ज किया गया। उसके बाद मामले की जांच शुरू की गई।

जांच में पुलिस ने मोबाइल नंबर से आरोपी युवक का पता लगा लिया। पुलिस ने बुधवार शाम को फरीदाबाद से उस युवक को पकड़ लिया। आरोपी युवक महेंद्र 10वीं तक पढ़ा है और एक मॉल में काम करता है।

प्रारंभिक जांच में पता चला है कि वह चाहता था कि पुलिस पोर्न इंडस्ट्री का भांडाफोड़ करे, इसलिए उसने पोर्न क्लिप हेल्पलाइन नंबर पर भेज दिया।

भ्रष्टाचार निरोधी हेल्पलाइन नंबर 6 अगस्त से शुरू हुआ है। इसका मकसद यह है कि कोई पुलिसकर्मी या अधिकारी घूस लेता है या मांगता है तो उसकी क्लिप उस नंबर पर भेजी जाए। लोग वीडियो या ऑडियो क्लिप मेल भी कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY