coolpad_mega_25d_homescreen_gadgets360कूलपैड ने नोट 3, नोट 3 लाइट, नोट 3 प्लस और मैक्स हैंडसेट लॉन्च करने के बाद भारत में अपना पांचवां स्मार्टफोन मेगा 2.5डी पेश किया है। इस हैंडसेट के जरिए कंपनी उन युवा उपभोक्ताओं को लुभाने की कोशिश कर रही है जो सेल्फी के दीवाने हैं।

गैजेट्स 360 से बात करते हुए कूलपैड इंडिया के सीईओ सैय्यद तजुद्दीन ने कहा कि कंपनी का 8,000 रुपये से कम कीमत वाले स्मार्टफोन मार्केट में 13-15 फीसदी हिस्सेदारी हासिल करने का लक्ष्य है। उन्होंने इसकी भी पुष्टि की कि कूलपैड मेगा 2.5डी का पहला बैच चीन से आएगा। इसके बाद हैंडसेट को भारत में ही ‘मेक इन इंडिया’ प्रोग्राम के तहत बनाया जाएगा। नई दिल्ली में आयोजित लॉन्च इवेंट में हमने मेगा 2.5डी के साथ कुछ वक्त बिताया। पहली नज़र में यह स्मार्टफोन हमें कैसा लगा? आइए आपको बताते हैं।

कूलपैड मेगा 2.5डी फुल-मेटल बॉडी वाला स्मार्टफोन नज़र आता है जबकि इसमें सिर्फ फ्रेम मेटल का है। यह मजबूत होने का एहसास देता है, लेकिन 5.5 इंच के डिस्प्ले के कारण इसे एक हाथ से इस्तेमाल करना आसान नहीं है। हमें मेगा 2.5डी को इस्तेमाल करते वक्त एक हाथ से नोटिफिकेशन शेड तक पहुंचने में दिक्कत हुई। इसके अलावा किनारे घुमावदार नहीं होने के कारण यह हाथों में बहुत शार्प होने का एहसास देता है। 140 ग्राम का वज़न इसके साइज़ को देखते हुए कम है।

पावर बटन दायीं तरफ हैं। इस तक आसानी से नहीं पहुंचा जा सकता। वॉल्यूम बटन बायीं तरफ हैं। ऑडियो जैक ऊपरी हिस्से में है और माइक्रो-यूएसबी पोर्ट व माइक्रोफोन निचले हिस्से में। फ्रंट पैनल पर डिस्प्ले के नीचे कूलपैड की ब्रांडिग मौजूद है।

कूलपैड मेगा 2.5डी का रियर पैनल बहुत हद तक साफ-सुथरा है। रियर पैनल पर एलईडी फ्लैश के साथ प्राइमरी कैमरा मौजूद है। निचले हिस्से में कूलपैड की ब्रांडिंग के साथ स्पीकर ग्रिल दिए गए हैं।

5.5 इंच के एचडी (720×1280 पिक्सल) आईपीएस डिस्प्ले की पिक्सल डेनसिटी 294 पीपीआई है। नाम से ही साफ है, इसके अगले हिस्से में 2.5डी कर्व्ड ग्लास दिए गए हैं। इस्तेमाल के दौरान हमने पाया कि इसका डिस्प्ले शार्प तो था लेकिन ब्लैक लेवल बहुत अच्छे नहीं थे। व्यूइंग एंगल ठीक-ठाक थे।

कूलपैड मेगा 2.5डी की अहम खासियत 8 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है जिसे कंपनी बढ़ा चढ़ाकर पेश कर रही है। फ्रंट कैमरे का सेंसर एफ/2.2 अपर्चर वाला है और यह 83.6 डिग्री के फील्ड ऑफ व्यू से लैस है। हैंडसेट में सोनी सेंसर वाला 8 मेगापिक्सल का रियर कैमरा भी है। कैमरा ऐप में स्मार्ट ब्यूटिफिकेशन और एज डिटेक्शन जैसे फ़ीचर दिए गए हैं। इसमें नाइट, ब्यूटी और प्रो मोड के अलावा फोटो और वीडियो मोड दिए गए हैं।
कूलपैड मेगा 2.5डी के साथ बिताए थोड़े वक्त में हमने पाया कि उपयुक्त रोशनी में रियर कैमरे से ली गई तस्वीरें क्रिस्प थीं। हालांकि, उनमें से कुछ में डिटेल की कमी थी। फ्रंट कैमरे से ली गई तस्वीरें वाइब्रेंट थीं। कम रोशनी में फ्रंट कैमरे से ली गई तस्वीरें रियर कैमरे की तुलना मे ज्यादा बेहतर आईं। हालांकि, ये भी थोड़े ब्लरी थे और डिटेल की कमी साफ झलक रही थी। कैमरे की परफॉर्मेंस के लिए आपको हमारे रिव्यू का इंतज़ार करना होगा।

यह फोन कंपनी के कूलयूआई 8.0 स्किन के साथ आता है जो एंड्रॉयड 6.0 मार्शमैलो पर आधारित है। यह बहुत ज्यादा कस्टमाइज किया गया है। आपको ऐप ड्रॉअर नहीं मिलेगा। सभी ऐप के आइकन तीन होम स्क्रीन में बंटे हुए हैं। कंपनी ने ‘स्क्रीनशॉट 2.0” टूल के बारे में बताया है। इसकी मदद से यूज़र तीन ऊंगलियों के गैस्चर से स्क्रीनशॉट ले पाएंगे। कूलपैड मैगा 2.5डी में 1 गीगाहर्ट्ज़ क्वाड-कोर मीडियाटेक एमटी6735पी प्रोसेसर के साथ 3 जीबी रैम का इस्तेमाल किया गया है। इनबिल्ट स्टोरेज 16 जीबी है और यूज़र 32 जीबी का माइक्रोएसडी कार्ड भी इस्तेमाल कर पाएंगे। फोन के साथ बिताए थोड़े वक्त में हमने पाया कि यह तेजी से काम करता है। एक ऐप से दूसरे ऐप के बीच जाने में भी दिक्कत नहीं हुई। हालांकि, हम कूलपैड मेगा 2.5डी की परफॉर्मेंस और सॉफ्टवेयर पर आखिरी फैसला रिव्यू में देंगे।
स्मार्टफोन में 2500 एमएएच की बैटरी है। इसके बारे में 9 घंटे तक का टॉक टाइम और 200 घंटे तक का स्टैंडबाय टाइम देने का दावा किया गया है। फोन 4जी एलटीई को सपोर्ट करता है।

आखिरी विचार
6,999 रुपये में कूलपैड मेगा 2.5डी अच्छा पैकेज है। हालांकि, क्वाड-कोर मीडियाटेक एमटी6735पी प्रोसेसर इस प्राइस रेंज के हिसाब से कम पावरफुल नज़र आता है। यह फोन फ्लैश सेल के जरिए उपलब्ध होगा। ऐसे में यह देखना मज़ेदार रहेगा कि इस फोन की मांग कितनी है?

ग्राहकों के लिए कूलपैड मेगा 2.5डी के विकल्प में शाओमी रेडमी 3एस भी मौजूद है। इसकी कीमत भी 6,999 रुपये है और यह मेटल बॉडी व 4100 एमएएच की बैटरी के साथ आता है।

LEAVE A REPLY