इसी पेट्रोल पम्प पर से बत्तीस हज़ार चकमा दे कर लेगाया

उदयपुर , आज सुबह 10 .30 बजे दिनदहाड़े एक युवक पेट्रोल पम्प से 32 हज़ार रूपये झांसा देकर ले भगा ,

हमारे शहर की पुलिस की सुस्ती देख के चोर उच्क्को , और जालसाजो के होसले इतने बुलंद हो गए के अब दिनदहाड़े हजारो रूपये ठगना इनके लिए आम बात होगया हे ,

रविवार को सुबह एक युवक सूरजपोल स्थित मीट मार्केट गया वहा पर हिरालाल की दुकान से 20 किलो मीट तुलवाया और उसको कहा की इतना मीट लेजाने के लिए कोई थेला या डब्बा नहीं हे तो तुम मेरे साथ चलो में तुम्हे ATM से रूपये भी निकालवाके भी देदुगा और साथ थेला भी लेते आयेगे ,मोटरसायकिल भी हीरालाल की ही ली और मेवाड़ मोटर की गली में एक मकान के निचे हिरा लाल को खड़ा कर कहा की ऊपर मेरा मकान हे में अभी रूपये और थेला लेके आता हु उसके बाद वह निचे आकर हिरा लाल को ले कर अशोका टाकिज के सामने स्थित पेट्रोल पम्प पर गया और वहा के मेनेजर अम्म्बलाल को कहा की मेरे पास हजार हजार के नोट हे और मुझे मजदूरों को पेमेंट करना हे तो तुम 40 हज़ार के खुल्ले देदो अम्बा लाल ने उसको पहले 32000 हज़ार रूपये गिनकर दिए तब वह बोला की अब बाकि के 8 हजार के दस दस के नोट होतो देदो पेट्रोल पम्प मेनेजर ने उसको 8 हजार के दस दस के नोट देदिए तब उसने बहार खड़े मीट वाले हिरा लाल को अन्दर केबिन में बुलाया के ये रूपये गीन लो मीट वाला हीरा लाल रूपये गिनने लगा और वह युवक ये कह कर के में अभी आता हु वहा से चला गया ! पेट्रोल पम्प मेनेजर समझता रहा की वह अपने आदमी को बता के गया हे , जब काफी देर हुई वो नहीं आया तब समझ आया के वो युवक झांसा दे कर 32000 रूपये ले के फरार हो गया पुलिस को सुचना दी गयी और उसने जो मेवाड़ मोटर की गली में अपना मकान बताया था वो भी उसका नहीं था , पुलिस मामले की अब चन बीन कर रही हे , गोर तलब हे की चार दिन पूर्व ही चित्तोड़ में इसी तरह झांसा देकर दो पेट्रोल पम्पो से ५०-५० हजार चकमा दे कर उड़ा ले गए , माना जा रहा हे के ये वारदात भी उसी गिरोह ने की हे

पेट्रोल पम्प का मेनेजर , और मालकिन राजकुमारी आर्य ,

LEAVE A REPLY