Narendra_Modi-300x186नई दिल्ली। भाजपा ने नरेन्द्र मोदी को पार्टी का प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाने का फैसला कर लिया है। इसके लिए बकायदा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर घोषणा की गई। भाजपा की संसदीय बोर्ड की बैठक के बाद शुक्रवार शाम की इसकी घोषणा राष्ट्रीय अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने की। उन्होंने कहा कि देश के मूड को देखते हुए यह फैसला किया गया। लोकसभा चुनाव से पहले मोदी के नाम की घोषणा करने के दौरान भाजपा के सभी शीर्ष नेता वहां मौजूद थे। इस दौरान प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद मोदी को सिंह ने बधाई भी दी। इसके बाद मिठाई खिलाकर मोदी का मुंह मिठा कराया। मोदी ने भी राजनाथ सिंह को मिठाई खिलाकर धन्यवाद किया।

मोदी वहां से आडवाणी के आवास पर उनका आशीर्वाद लेने के लिए रवाना हो गए। इससे ठीक पहले संसदीय बोर्ड के सदस्यों ने मोदी का स्वागत किया।

– सूत्रों की माने को एलान के बाद मोदी आडवाणी के घर जाएंगे।

– मोदी का काफिला गुजरात भवन से निकल चुका है। मोदी पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह के घर पहुंचे हैं उसके बाद बैठक में हिस्सा लेने जाएंगे।

– मोदी संसदीय बोर्ड की बैठक में हिस्सा लेने के लिए दिल्ली पहुंच गए हैं। वे एयरपोर्ट से सीधे गुजरात भवन गए।

– लाल कृष्ण आडवाणी को भाजपा नेताओं द्वारा बैठक में हिस्सा लेने के लिए मना लिया गया था। आडवाणी बैठक में हिस्सा लेने जा रहे थे। वो अपनी गाड़ी तक पहुंचे और गाड़ी में बैठ गए थे लेकिन उसके बाद गाड़ी से उतरकर फिर दोबारा से अपने घर चले गए। सुरक्षाकर्मियों को बताया गया कि आडवाणी अब बाहर नहीं जाएंगे। अब बताया जा रहा है आडवाणी अब बैठक में नहीं जाएंगे।

– प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के लिए मोदी के नाम की अभी तक भाजपा के संसदीय बोर्ड की ओर से कोई घोषणा नहीं की गई है। लेकिन मोदी की समर्थकों द्वारा इसको लेकर पहले से ही जश्न मनाया जा रहा है। पूरे देश में समर्थक पटाखे चलाकर और बाजे बजाकर इसका जश्न मनाने में लगे हुए हैं।

– अकाली दल के नेता नरेश गुजराल ने बताया कि राजनाथ सिंह ने प्रकाश सिंह बादल को फोन किया था। राजनाथ ने बताया कि मोदी भाजपा के पीएम पद के उम्मीदवार होंगे। गुजराल ने कहा कि मोदी की पीएम पद की उम्मीदवारी पर एनडीए एकजुट है। राजनीति में मतभेद हमेशा नहीं रहते। हर कोई फैसले से सहमत होगा। राजनाथ ने शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे को फोन कर बताया कि पार्टी मोदी को पीएम पद का उम्मीदवार घोषित करने जा रही है। शिवसेना नेता संजय राउत ने इसकी पुष्टि की। गुरूवार रात उद्धव ठाकरे ने मोदी से फोन पर बात की और उन्हें शुभकामना दी। शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि हम मोदी का समर्थन करेंगे। मोदी को जनता का अथाह समर्थन है। अगर हमें कांग्रेस को सत्ता से उखाड़ फेंकना है तो एनडीए को मजबूत करना होगा। आडवाणी राजनीति में भीष्म पितामह के रूप में हैं। हमने हमेशा उनका मार्गदर्शन लिया है।

– आडवाणी को मनाने के लिए भाजपा नेता दिन भर उनके घर के चक्कर काटते रहे। शुक्रवार सुबह मुरलीधर राव ने आडवाणी से मुलाकात की है। इसके बाद नितिन गडकरी और रामलाल ने आडवाणी से मुलाकात की। बाद मेंदोनों भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह से मिले।

– राजनाथ सिंह को आडवाणी से हुई बातचीत की जानकारी दी। गडकरी फिर आडवाणी से मिलने उनके घर पहुंचे। इसके बाद गडकरी सुषमा स्वराज के घर पहुंचे। बाद में सुषमा स्वराज,अनंत कुमार और गडकरी आडवाणी के घर पहुंचे। शाम को राजनाथ सिंह ने आडवाणी से मुलाकात की।

 

– भाजपा के सूत्रों के मुताबिक आडवाणी ने राजनाथ सिंह और सुषमा स्वराज से कहा है कि अगर 2014 के लोकसभा चुनाव में मोदी को पीएम पद के उम्मीदवार के रूप में प्रोजेक्ट किया गया तो वह पार्टी के लिए काम करने के इच्छुक नहीं होंगे।

– समाचार चैनलों के मुताबिक भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह को दिल्ली आने का न्योता दिया लेकिन व्यस्त कार्यक्रम की वजह से उन्होंने दिल्ली आने से मना कर दिया। शिवराज सिंह ने कहा कि जनआर्शीवाद यात्रा के लिए उन्हें उमरिया जाना हैं इसलिए वह दिल्ली नहीं आ सकते। हालांकि शिवराज सिंह और राजनाथ सिंह के दफ्तर ने इस खबर का खंडन किया है।

क्या फिर इस्तीफा देंगे आडवाणी

कहा जा रहा है कि अगर आडवाणी संसदीय बोर्ड की बैठक में शामिल नहीं होते हैं तो उनकी गैर मौजूदगी में ही मोदी के नाम पर मुहर लगा दी जाएगी। गौरतलब है कि गोवा में भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में आडवाणी शामिल नहीं हुए थे। उनकी गैर मौजूदगी में ही मोदी को चुनाव अभियान समिति का प्रमुख नियुक्त कर दिया गया था। इसके बाद आडवाणी ने पार्टी के तीन प्रमुख पदों से इस्तीफा दे दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here