वैसे तो पुलिस चौकी या पुलिस थाना दुखी लोगों की फ़रियाद सुनाने के लिए होती है, लेकिन आम आदमी फिर भी यहाँ आने से कतराता है, क्यों वजह है इसकी कई वजह है लेकिन आज एक वजह हम आपको बता रहे है,

यह खबर दैनिक अखबार राजस्थान पत्रिका में भी छपी है, पुलिस की चौकी में बजाये किसी की रिपोर्ट लिखे जाने के. जाम छलकाए जा रहे है। ये पुलिस चौकी है आदिवासी अंचल कोटड़ा में माण्डवा थाने की जूड़ा चौकी है जहाँ पूरी मस्ती में बिना किसी रोक टोक के पुलिस कर्मी जाम भर रहे थे और मस्ती में डूबे हुए है। राजस्थान पत्रिका के पत्रकार को जब सूचना मिली वह मोके पर पहुंचे उन्होंने वीडियो बनाया पुलिस चौकी में जमी रंगीन महफ़िल का। जाम छिपाने की भी कोशिश हुई लेकिन वो सब माज़रा वीडियो में कैद हो गया।
भाई शराब पीनी है मजे करने है तो किसी की मनाही नहीं है। सरकार खुद सरकारी दुकाने खुलवा कर शराब बिकवा रही है लेकिन इस तरह ऑफिस में बैठ कर वह भी पुलिस चौकी में बैठ कर पीना कहाँ तक सही है अपने घर पर बैठ कर पियो जीतनी पिणि है।

LEAVE A REPLY