उदयपुर। कपडे पर जीएसटी लगाए जाने का विरोध कपड़ा व्यवसाई पिछले १४ दिन से कर रहे है। कपड़ा व्यवसाइयों ने आज रैली निकाल कर केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। सांसद अर्जुन मीणा को ज्ञापन सोंप केंद्र सरकार से कपडे से जीएसटी हटाने की मांग की है।
कपड़ा व्यवसाई पिचले १४ दिनों से केंद्र सरकार द्वारा कपड़ा व्यवसाय पर पांच प्रतिशत जीएसटी लगाये जाने का विरोध कर रहे है। इसी कड़ी में आज कपड़ा व्यवसाइयों ने घंटा घर से मोती चोहट्टा, हाथीपोल मालदास स्ट्रीट में रैली निकाली हाथों में तख्ती लिए कपड़ा व्यवसाइयों ने कपडे पर लगाने वाले जीएसटी का जम कर विरोध किया। केंद्र सरकार और वित्त मंत्री अरुण जेतली के खिलाफ नारे लगाई। बड़ाबाजार में सभी व्यापारियों ने इकठ्ठा होकर जम कर प्रदर्शन किया और नारेबाजी की। प्रवक्ता अजय पोरवाल ने बताया कि आज़ादी के बाद से आज तक कपड़ा कर मुक्त रहा है। सरकार ने हमेशा इसको टेक्स से मुक्त रखा है। कपडे बनाने का प्रोसेस निचले स्तर से होकर कई प्रक्रिया से गुजरता है इसे में हर जगह टेक्स लगाना उचित नहीं है। इसके अलावा बी ही कपड़ा व्यवसाय में छोटे छोटे और साधारण लोग शामिल है जिन्हें टेक्स की जटिलताएं समझना मुश्किल है। व्यापारियों ने सांसद अर्जुन मीणा के घर जाकर ज्ञापन दिया और मांग है कि कपडे पर से जीएसटी हटा कर व्यापारियों और जताना को राहत दी जाए।

LEAVE A REPLY