जालोर जिले में सोमवार रात को दिल दहलाने वाली घटना हुई। रविवार रात जिले के तरवाडा निवासी ताराराम (65) ने कुल्हाड़ी से पत्नी सुकीदेवी (58), पोती सुमित्र(5) व कविता(3) हत्या कर दी। इसके बाद खुद भी फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना के समय पुत्रवधु रेखा दूसरे कमरे में सो रही थी। खुलासा सुबह हुआ।

पुलिस ने कुल्हाड़ी बरामद कर ली। पुलिस के अनुसार तरवाडा निवासी ताराराम कई साल से मानसिक रूप से बीमार था। बेटा हीराराम पिता का इलाज कराने के बजाय भोपे से झाड़-फंूक करवाता था। हालांकि हत्या की वजह सामने नहीं आई है। वहीं हीराराम का कहना है कि उसके ताऊ की कई साल पहले अकाल मृत्यु हो गई थी। इसी कारण उसके पिता मानसिक रूप से परेशान रहते थे। इसलिए झाड़-फूंक करवाना पड़ा। हालांकि ताराराम हमेशा इसका विरोध करता रहा।

LEAVE A REPLY