बांसवाड़ा पोस्ट । पाटन थाना इलाके के चोरवड़बड़ी गांव में कुएं से मिले युवक के शव की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। युवक की अवैध संबंधों के चलते पीटपीट कर हत्या के बाद उसका शव कुएं में डाल दिया गया था। पुलिस ने इस मामले में गुरुवार को तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है।
पुलिस अधीक्षक कालूराम रावत ने बताया कि मध्य प्रदेश के रूपारेल निवासी गुड्डू (18) पुत्र रमेश भगोरा की हत्या के आरोप में खेरवा निवासी सुखराम पुत्र भाणजी डिण्डोर, उसके चचेरे भाई चोरवड़बड़ी निवासी कमला पुत्र भाणजी मईड़ा व भीमा पुत्र राणजी मईड़ा को गिरफ्तार किया गया है।
एसपी ने बताया कि 19 जनवरी को मध्य प्रदेश के थांदला तहसील के रूपारेल निवासी गुड्डू अपने साथी मुकेश पुत्र शैतान डामोर के साथ चोरवड़ बड़ी गांव में पेमला मईड़ा के घर एक शादी समारोह में आया था। इसके बाद से गुड्डू लापता हो गया। इस पर परिजनों ने गुड्डू की तलाश की और साथी मुकेश से पूछा तो उसने बताया कि गुड्डू रात तीन बजे तक उसके साथ था। इसके बाद वह कहीं जाने की कहकर निकल गया था।
इस पर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू, लेकिन तीन दिनों तक उसका कहीं सुराग नहीं लगा। इसके बाद चोरवड़ बड़ी गांव में पेमला मईड़ा के घर के पास ही 22 जनवरी को बगैर मुंडेर के कुएं में गुड्डू का शव बरामद हुआ। इस पर पुलिस ने मर्ग दर्ज कर जांच शुरू किया।
अवैश संबंधों के चलते उतारा मौत के घाट : जांच के दौरान सामने आया कि शादी समारोह में पहले से परिचित गुड्डू पाटन थाना इलाके की खेरवा निवासी अनिता पत्नी सुखराम को एकान्त में संदिग्ध अवस्था में पाया गया था। इस पर अनिता के पति सुखराम तथा उसके चचेरे भाई कमला पुत्र भाणजी मईड़ा व भीमा पुत्र राणजी मईड़ा ने मिलकर पहले तो गुड्डू को लात घूसों से जमकर पीटा।
इसके बाद पत्थर से उसका ललाट फोड़ दिया। इसमें गुड्डू लहूलुहान होने के बाद गंभीर रूप से घायल हो गया। जहां उसने कुछ ही देर में दम तोड़ दिया। घर में शादी समारोह होने की वजह से पहले तो आरोपितों ने गुड्डू के शव को वहीं सूने मकान में छिपा दिया और अनिता को धमका दिया कि अगर इस बारे में किसी को बताया तो उसे भी जान से मार दिया जाएगा। इसके बाद आरोपितों ने मौका देखकर दूसरे दिन की रात 12 बजे शव को सूने मकान से उठाया और पास में ही कुएं में पटक दिया।

LEAVE A REPLY