उदयपुर.जैसे ही अब कांग्रेस सत्ता में आई है तो अब कांग्रेसी विधायकों के तेवर बढ़ गए है . ओसियां की विधायक दिव्या मदेरणा का एक विडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है जिसमे वह एक पुलिस अधिकारी को एक तरह से सबके सामने धमका रही है . वायरल वीडियो में विधायक दिव्या ने मथानिया थानाधिकारी राजेन्द्र सिंह राजपुरोहित को आड़े हाथों लिया। इस वीडियो को उनके समर्थक ने फेसबुक पर शेयर कर रहे है। कुछ लोग के दिव्या की तारीफ कर रहे तो कुछ नसीहत भी दे रहे है।
दरअसल, चुनाव जीतने के बाद पहली बार विधानसभा क्षेत्र पहुंचने पर स्वागत के दौरान विधायक दिव्या मदेरणा के पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को आड़े हाथों लेते हुए तेवर दिखाने का वीडियो शुक्रवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुआ।
लोगों ने किए ऐसे कमेंट्स
सोशल मीडिया पर यह वीडियो वायरल होने के बाद कुछ लोगों ने दिव्या की तारीफ की तो कुछ ने नसीयत दी। कई लोगों ने विधायक दिव्या को दबंग की छवि और किसानों हितैषी बताया तो कुछ ने पुलिस अधिकारी को सबके सामने चेतावनी देना गलत बताया।
एक यूजर ने कहा, सही फरमाया आप गलत के खिलाफ हो पर सबूत मिले बगैर उच्च अधिकारी के साथ इस तरह बात करना सही नहीं है। आपकी सबकी अपने अपने लेवल की इज्जत होती है।
दूसरे यूजर ने लिखा, माननीय विधायक दिव्या मदेरणा के दबंग छवि और किसान हितैषी होने पर हमें गर्व है।

देखिये विडियो 

 

शासन की गन है मेरे पास
उम्मेद नगर में ही स्वागत के दौरान विधायक दिव्या ने मथानिया थानाधिकारी राजेन्द्र सिंह राजपुरोहित को आड़े हाथों लिया और कहा, ओसियां की जनता का जाब्ता चलता है मेरे साथ। पुलिस जाब्ते की मोहताज नहीं हूं मैं। सभी ने गनमैन ले लिए जनता ने जीताकर भेजा है। गनें हैं मेरे पास। शासन की गन है मेरे पास। आपकी गन थोड़े ही है। इसके बाद दिव्या ने थानाधिकारी से कहा, ‘आपके दो-तीन जगह बड़ी शिकायतें हैं। तिंवरी फांटा व मथानिया फांटा पर चालान कर रहे हैं। जुड़ में उम्मेद नगर बाइपास पर 15-20 आदमियों की गैंग हैं, जहां से रात को कोई जाना नहीं चाहता है।थानाधिकारी ने कहा कि वो क्षेत्र उनके क्षेत्राधिकार का नहीं है। तब दिव्या ने कहा, ‘आप अपने डीसीपी से कहिए। आपके यहां की नीचे की व्यवस्था है ना। जितनी भी चौकियां लग रही हैं, कांस्टेबल लग रहे हैं। यह सब सुचारू कर देना। यहां खड़े होकर नोट मांगने का सिस्टम बंद कर देना।
जवाब में थानाधिकारी ने कहा, ‘यदि कोई रुपए लेता है तो वो संबंधित को शिकायत कर सकता है। हमारे लेवल पर है तो आप मुझे बताइए।
इसके बाद दिव्या ने कहा, ‘आप अपने अधिकारियों को बुलाकर मीटिंग ले लीजिए। कहीं भी गड़बड़ है तो कह दीजिए, अब अलर्ट हो जाइए। गवर्नमेंट हेज चेंज्ड एण्ड एमएलए हेज चेंज्ड। वर्र्किंग की जो स्टाइल थी ना ढिलमढिलु, वो बदल दीजिए।’ इतना कहकर विधायक दिव्या अपनी मां लीला मदेरणा के साथ कार में बैठकर रवाना हो गईं।
विधायक के निर्देशों के संबंध में थानाधिकारी राजेन्द्र सिंह राजपुरोहित का कहना है कि नियम तोडऩे वालों के चालान करना नियम के तहत सरकारी कार्य है। यदि कोई शिकायत है तो वो संबंधित को शिकायत कर सकता है।

LEAVE A REPLY